December 2006

हास्य-व्यंग्य : किस्से अदालतों के...

किस्से अदालतों के... - रवीन्द्र नाथ त्यागी सुप्रीम कोर्ट ने उड़ीसा हाईकोर्ट के फ़ैसले को रद्द करते हुए उन चार लोगों...

हास्य कथा - जैसे को तैसा

जैसे को तैसा - मोहिनी राव एक जमींदार के लिए उसके कुछ किसान एक भुना हुआ मुर्गा और एक बोतल फल का रस ले आए. जमींदार ने अपने नौकर को बुलाकर...

हास्य - व्यंग्य : पति का मुरब्बा

. हास्य - व्यंग्य पति का मुरब्बा -गीता शॉ पुष्प यदि आपके पास पति है, तो कोई बात नहीं. न हो तो अच्छे, उत्तम कोटि के, तेज-तर्रा...

कुछ पाकिस्तानी ग़ज़लें

मुनव्वर हुसैन बलोच की दो ग़ज़लें इस धरती पर कितना दुःख है इस धरती पर कितना दुःख है प्यारे, देख ऊँचे महलों के वासी दुख...

बाल पहेली कोश से कुछ बाल पहेलियाँ...

चंद बाल पहेलियाँ 1 चार पाँव पर चल न पाए चलते को भी वह बैठाए 2 मारे से वह जी उठे बिन मार...

पूरन सरमा का व्यंग्य - सूट कथा

व्यंग्य : सूट कथा - पूरन सरमा सूट सर्दी का पहनावा है. हर आदमी की इच्छा होती है कि वह सूट पहने. कुछ लोगों को शादी के मौके...