आलेख || कविता ||  कहानी ||  हास्य-व्यंग्य ||  लघुकथा || संस्मरण ||   बाल कथा || उपन्यास || 10,000+ उत्कृष्ट रचनाएँ. 1,000+ लेखक. प्रकाशनार्थ रचनाओं का  rachanakar@gmail.com पर स्वागत है

-------------------

अनुज नरवाल रोहतकी की नज़्म

Some Pink Bokeh for Bokeh Wednesday!चित्र - Flickr सेनज़्म

डॉ. अनुज नरवाल रोहतकी

जिस्म मरते है, ख़्वाब मरते नहीं
आप क्यूं मेरा यकीन करते नहीं
मां की आंखों में बेटी की शादी का ख़्वाब
बेटा बड़ा आदमी बने, ये पिता जी का ख़्वाब
पोते-पातियों को खिलाना, दादा जी का ख़्वाब
पोते की शादी देखूं, होता है ये दादी का ख़्वाब
आरजू मरती नहीं, ख़्वाब मरते नहीं
आप क्यूं मेरा यकीन करते नहीं
होते है दादी-नानी की कहानी में ख़्वाब
बहुत लाज़मी है ज़िंदगानी में ख़्वाब
छुपे होते हैं हर लफ़्ज़ मानी में ख़्वाब
ये ख़्वाब अपने दिलों, अपनी सांसों की तरह
रेज़ा-रेज़ा होकर बिखरते नहीं
आप क्यूं मेरा यकीन करते नहीं
ख़्वाब, रोशनी और हवा की तरह होते हैं
ख़्वाब, आजाद मिज़ाज़ खुशबू के झोंके हैं
मानिंद-ए-वक्त ये भी कहीं ठहरते नहीं
आप क्यूं मेरा यकीन करते नहीं
ख़्वाब प्रेरणा हैं, ख़्वाब स्त्रोत हैं
हर हकीकत, हकीकत से पहले
समझो एक ख़्वाब ही होती है
सोचो! चांद पर जाने का अगर
हमारे ज़हन में कोई ख़्वाब नहीं होता
तो हम कभी चांद पर उतरते नहीं
आप क्यूं मेरा यकीन करते नहीं
---

संपर्क:
डॉ. अनुज नरवाल रोहतकी
454/33 नया पड़ाव, काठ मंडी, रोहतक - 124001 (हरियाणा) भारत

टिप्पणियाँ

----------

10,000+ रचनाएँ. संपूर्ण सूची देखें.

अधिक दिखाएं

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

---

तकनीक व हास्य -व्यंग्य का संगम – पढ़ें : छींटे और बौछारें

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद/अनुसरण करें

परिचय

1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही रचनाकार से जुड़ें.

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है. अपनी रचनाएं इस पते पर ईमेल करें :

rachanakar@gmail.com

अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

डाक का पता:

रचनाकार

रवि रतलामी

101, आदित्य एवेन्यू, भास्कर कॉलोनी, एयरपोर्ट रोड, भोपाल मप्र 462030 (भारत)

कॉपीराइट@लेखकाधीन. सर्वाधिकार सुरक्षित. बिना अनुमति किसी भी सामग्री का अन्यत्र किसी भी रूप में उपयोग व पुनर्प्रकाशन वर्जित है.

उद्धरण स्वरूप संक्षेप या शुरूआती पैरा देकर मूल रचनाकार में प्रकाशित रचना का साभार लिंक दिया जा सकता है.


इस साइट का उपयोग कर आप इस साइट की गोपनीयता नीति से सहमत होते हैं.