शुक्रवार, 15 अप्रैल 2011

यशवन्त कोठारी का व्यंग्य उपन्यास - असत्यम! अशिवम!! असुन्दरम!!!

image

 

यशवन्त कोठारी का धारदार व्यंग्य उपन्यास असत्यम! अशिवम!! असुन्दरम!!! पूर्व में रचनाकार में सीरियल रूप में तथा पीडीएफ ई-बुक के रूप में प्रकाशित हो चुका है. रचना प्रकाशन जयपुर से इसका प्रिंट संस्करण भी निकला है. पुस्तक के अन्य विवरण:

असत्यम! अशिवम!! असुन्दरम!!!

व्यंग्य उपन्यास

उपन्यासकार - यशवंत कोठारी

प्रकाशक - रचना प्रकाशन, 57, नाटाणी भवन, मिश्रराजाजी का रास्ता, चांदपोल बाजार, जयपुर 302001

संस्करण - 2011,

पृष्ठ - 250

कीमत - 250

आईएसबीएन नं. : 978-81-89228-72-9

किताब संबंधी अन्य जानकारी उपन्यासकार यशवंत कोठारी ykkothari3@gmail.com  से प्राप्त कर सकते हैं.

2 blogger-facebook:

  1. बहुत ही अच्छा उपन्यास है,अवश्य पढ़ें..

    उत्तर देंहटाएं
  2. झूठम, कुरूप, रावणम,
    सत्यम,शिवम् सुन्दरम.

    http://aatm-manthan.com

    उत्तर देंहटाएं

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

------------------------------------------------------------

प्रकाशनार्थ रचनाएँ आमंत्रित हैं...

1 करोड़ से अधिक पृष्ठ-पठन, 1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक तथा 2000 से अधिक फ़ेसबुक प्रसंशक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को इंटरनेट के विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही नाका से जुड़ें. नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है.किसी भी फ़ॉन्ट, टैक्स्ट, वर्ड या पेजमेकर फ़ाइल में रचनाएँ rachanakar@gmail.com पर ईमेल करें. अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, समृद्ध व लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------