गुरुवार, 24 मई 2012

उर्दू शायर कृष्ण मोहन का खत सीताराम गुप्ता के नाम

URDU SHAYAR KRISHAN MOHAN KA KHAT SITA RAM GUPTA KE NAAM-1

URDU SHAYAR KRISHAN MOHAN KA KHAT SITA RAM GUPTA KE NAAM-2

अंग्रेज़ी-उर्दू में लिखित इस खत में जो उर्दू ग़ज़ल कृष्‍ण मोहन साहब ने लिख भेजी है उसका देवनागरी लिप्‍यंतरण भी संलग्‍न हैः

ग़ज़ल

मैं क़तीले- सिनाने- अब्रू हूँ,

शायरे - इश्‍क़बाज़े - उर्दू हूँ।

 

नाच के बाद उतार फेंका हो,

नर्तकी ने जिसे वो घुँघरू हूँ।

 

खुश हूँ थोड़-सी रोशनी पाकर,

मैं शबे-आरजू का जुगनू हूँ।

 

मैं रिवायत के बंद कमरे में,

बंद कैसे रहूँ कि खुशबू हूँ।

 

हो कोई कितना ही सितेज़ाकेश,

मैं हमेशा कुशादाबाजू हूँ।

 

कब मिरा दिल लगा है दुनिया से,

मैं गृहस्‍थ आश्रम का साधू हूँ,

 

कृश्‍नमोहन उदास है जीवन,

यास का यात्री हूँ, भिक्षु हूँ।

 

-कृष्‍णमोहन

 

शब्‍दार्थ ः

क़तीले-सिनाने-अब्रू = प्रेयसी की भौंहों की नोक का मारा

सितेज़ाकेश = युद्ध पसंद लड़ाई-झगड़े को तत्‍पर

कुशादाबाजू = हाथ खोले हुए अर्थात्‌ स्‍वागतोत्‍सुक

 

संकलन, लिप्‍यंतरण एवं प्रस्‍तुति ः

सीताराम गुप्‍ता

ए․डी․-106-सी, पीतमपुरा,

दिल्‍ली-110034

फोन नं․ 011-27313679/9555622323

srgupta54@yahoo.co.in

0 blogger-facebook

एक टिप्पणी भेजें

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही नाका से जुड़ें. नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है.अपनी रचनाएँ rachanakar@gmail.com पर ईमेल करें. अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, समृद्ध व लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------