गुरुवार, 25 दिसंबर 2014

तकनीक : आपके संगीत श्रवण के आनंद में आमूल-चूल परिवर्तन कर देने वाला, नया स्पीकर सिस्टम – देवीलेट फैंटम

 

devialet's phantom

यदि आप संगीत प्रेमी हैं तो यह खबर आपको सचमुच आनंदित कर देगी.

फ्रांसीसी ध्वनि-वैज्ञानिकों ने दस वर्षों के लंबे अनुसंधान के बाद एक ऐसा स्पीकर सिस्टम तैयार किया है, जिससे संगीत सुनने का आनंद 1000 गुना हो जाएगा – एक तरह से आपके संगीत सुनने के आनंद में आमूल-चूल परिवर्तन. इसे विश्व का सर्वश्रेष्ठ साउंड सिस्टम कहा गया है. विश्व प्रसिद्ध म्यूजिक कंपनी बीट्स के सीईओ रहे डेविड हेमेन का कहना है  –

"यह सिस्टम तो एकदम नायाब है – मैंने इसे सुना है और पाया है कि इसके समतुल्य कहीं कोई भी नहीं है."

 

और, रॉक बैण्ड द पोलिस के स्टिंग ने जब इसे सुना तो कहा –

"मेरे विचार में मेरे (और किसी भी संगीत को) संगीत का असली आनंद लेने के लिए लोगों को (संगीत) इसी से सुनना चाहिए. "

यह स्पीकर सिस्टम देवीलेट फैंटम (devialet’s phantom) है जिसे फ्रांसीसी कंपनी देवीलेट (http://en.devialet.com/phantom/) ने 10 वर्षों के लंबे शोध से तैयार किया है. इसमें आपको जो बास सुनाई देता है वो नकली, एनहैंस किया हुआ नहीं होता जैसे कि अन्य स्पीकर सिस्टम – जैसे कि साउंड - वेव - गाइड आदि में होता है, बल्कि सीधा स्पीकर से निकलता है. और इसीलिए इसका आकार बहुत छोटा है – सामान्य आकार से छः गुना कम. इस सिस्टम की टेक्नोलॉजी को 77 पेटेन्ट सहित 37 पुरस्कार मिल चुके हैं.

देवीलेट फ़ैंटम अभी थोड़ा महंगा लग सकता है, मगर इसी किस्म की गुणवत्ता का दावा करने वाले तथाकथित अन्य ऑडियोफ़ाइल स्पीकरों से तो एक तरह से सस्ता ही है.

1 blogger-facebook:

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही नाका से जुड़ें. नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है.अपनी रचनाएँ rachanakar@gmail.com पर ईमेल करें. अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, समृद्ध व लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------