शुक्रवार, 20 मार्च 2015

चित्रमय बाल कथा - क्या तुम मेरी माँ हो?

Are you my mother?

By - P.D.Eastman

हिंदी अनुवाद -

अरविन्द गुप्ता

ग्राफ़िक्स - अभय कुमार झा

 

क्या तुम मेरी मां हो?

एक मां चिड़िया अपने अंडे पर बैठी थी ।

clip_image001

अचानक अंडा थोड़ा कूदा ।

'' अरे वाह!'' मां चिड़िया ने कहा ।

'' जल्दी ही अंडे में से मेरा बच्चा बाहर आएगा!
फिर उसे जोर की भूख लगेगी । ''

' मुझे अपने चूजे के खाने के लिए
कुछ लेकर आना चाहिए!'' उसने कहा ।
' यैँ जल्दी ही वापिस आ जाऊंगी!''

 

फिर मां चिड़िया फुर्र से उड़कर चली गई ।

 

अंडा उछला ।

वो इतना उछला - कूदा उछला - कूदा

कि उस में से चिड़िया का बच्चा
बाहर निकल आया!

 

'' मेरी मां कहां है?'' उसने कहा ।

उसने मां को चारों तरफ खोजा ।

उसने ऊपर देखा । उसे मां नहीं दिखी ।

उसने नीचे देखा । उसे मां नहीं दिखी ।

 

'' चलो, मैं मां को जाकर ढूंढता हूं '' उसने कहा ।

यह कह कर वो चल पड़ा ।

वो पेड़ से गिरा ।

और फिर नीचे, और नीचे गिरता ही चला गया ।

 

चिड़िया का बच्चा अभी छोटा था ।
वो उड़ नहीं सकता था ।

वो उड़ नहीं सकता था, पर वो चल सकता था ।
'' चलो मैं अपनी मां को तलाशने निकलता हूँ ''
उसने कहा ।

 

उसने मां को पहले कभी नहीं देखा था ।
वो अपनी मां को पहचानता भी न था ।

चलते-चलते वो अपनी मां के पास से गुजरा ।
परंतु उसने अपनी मां को नहीं पहचाना ।

फिर वो एक छोटी बिल्ली के पास पहुंचा ।
'' क्या तुम मेरी मां हो?'' उसने बिछी से पूछा ।
बिछी बस उसे टकटकी लगाए घूरती रही ।
उसने कुछ नहीं कहा ।

clip_image003

बिल्ली उसकी मां नहीं थी, इसलिए
चिड़िया का बच्चा आगे बढ़ा


फिर वो एक मुर्गी के पास पहुंचा ।
'' क्या तुम मेरी मां हो? ''

उसने मुर्गी से पूछा ।

'' नहीं, '' मुर्गी ने जवाब दिया ।

 

छोटी बिल्ली उसकी मां नहीं थी ।

मुर्गी भी उसकी मां नहीं थी ।

इसलिए चिड़िया का बच्चा आगे बढ़ा ।

 

'' मुझे अपनी मां को खोजना है!'' उसने कहा ।
'' पर कहां? वो कहां है? वो कहां हो सकती है?''

 

फिर वो एक कुत्ते के पास जा पहुंचा ।
'' क्या तुम मेरी मां हो?''

उसने कुत्ते से पूछा ।

'' मैं तुम्हारी मां नहीं हूं ।

में कुत्ता हूं, '' कुत्ते ने जवाब दिया ।

छोटी बिल्ली उसकी मां नहीं थी ।
मुर्गी भी उसकी मां नहीं थी ।
कुत्ता भी उसकी मां नहीं थी ।

 

इसलिए चिड़िया का बच्चा फिर आगे बढ़ा ।


उसे एक गाय मिली ।

'' क्या तुम मेरी मां हो? '' उसने गाय से पूछा ।
' 'मैं तुम्हारी मां कैसे हो सकती हूं? '' गाय ने कहा ।
'' मैं एक गाय हूं ।''

छोटी बिल्ली और मुर्गी उसकी मां नहीं थे ।
कुत्ता और गाय भी उसकी मां नहीं थे ।

क्या उसकी मां थी भी?

 

'' मेरी मां थी, '' चिड़िया के बच्चे ने कहा ।

'' मुझे ये पका पता है । मुझे उसे खोजना ही पड़ेगा ।
मैं उसकी अवश्य तलाश करूंगा । पका!''

clip_image005

अब चिड़िया के बच्चे ने चलना छोड़ दिया ।

वो दौड़ने लगा ।

उसे एक टूटी-फूटी मोटरकार दिखाई दी ।

क्या मोटरकार उसकी मां हो सकती थी?

नहीं, यह संभव नहीं था ।

 

चिड़िया का बच्चा रुका नहीं । वो तेजी से दौड़ता रहा ।

फिर उसने नीचे की ओर झुक कर देखा । उसे एक
नाव दिखाई पड़ी । नाव को देखकर उसने कहा, '' वो
रही मेरी मां!'' वो नाव की तरफ देखकर चिल्लाया,
परंतु नाव रुकी नहीं । नाव चलती ही गई ।

 

फिर उसने सिर ऊपर उठाकर देखा ।
उसे एक बड़ा हवाई जहाज दिखाई दिया ।
'' मां, मैं यहां पर हूं!'' वो चिल्लाया ।
परंतु हवाई जहाज नहीं रुका ।

 

वो उड़ता चला गया ।

तभी चिड़िया के बच्चे को बड़ी सी चीज
यह जरूर उसकी मां होगी ।
'' मां वहां है!'' वो चिल्लाया ।
'' वो मेरी मां है!''

clip_image007

वो दौड़कर उसके एकदम पास आया ।

'' मां, मां! मैं यहां हूं मां!'' उसने उस बड़ी मशीन से
कहा । परंतु उस बड़ी मशीन से केवल '' भप्प '' की
जोरदार आवाज आई । '' तो तुम भी मेरी मां नहीं हो, ''
चिड़िया के बच्चे ने कहा ।

 

'' तुम तो एक बड़ी मशीन हो । मुझे यहां से निकलना
चाहिए!'' परंतु चिड़िया के बने के लिए वहां से
भागना मुश्किल हो गया । तुरंत बड़ी मशीन ऊपर
उठी । वो ऊपर, और ऊपर उठी ।

और उसके साथ-साथ चिड़िया का बच्चा

भी ऊपर और ऊपर उठा ।

 

पर देखो वो बड़ी मशीन अब कहां जा रही है?
' 'अरे, बाप रे!''

यह बड़ी मशीन अब मेरे साथ क्या करेगी?
मुझे यहां से जल्दी निकालो!''

बस तभी वो बड़ी मशीन रुक गई ।

 

'' मैं कहां हूं?'' चिड़िया के बच्चे ने कहा ।
'' मैं अब घर जाना चाहता हूं!

मुझे अपनी मां चाहिए!''

तभी कुछ हुआ ।

बड़ी मशीन ने चिड़िया के बच्चे को उठाकर
उसे वापिस घोंसले में रख दिया ।

 

चिड़िया का बच्चा अंत में अपने घर
सुरक्षित पहुंच गया ।

clip_image009

बस तभी मां चिड़िया भी पेड़ पर वापिस आई ।
'' क्या तुम्हें पता है कि मैं कौन हूं?''

उसने अपने बच्चे से पूछा ।

 

'' हां मुझे मालूम है कि तुम कौन हो, ''
चिड़िया के बच्चे ने जवाब दिया ।

'' तुम छोटी बिल्ली नहीं हो ।

तुम मुर्गी नहीं हो ।

तुम कुत्ता नहीं हो ।

तुम गाय नहीं हो ।

तुम नाव नहीं हो, न ही तुम हवाई जहाज हो,
न ही तुम बड़ी मशीन हो!''

'' तुम एक चिड़िया हो, और तुम मेरी मां हो । ''

(अनुमति से साभार प्रकाशित)

3 blogger-facebook:

  1. इतनी सुंदर बाल कथा साझा करने के लिए धन्यवाद सर जी.

    उत्तर देंहटाएं
  2. akhilesh chandra7:32 am

    सुन्दर प्यारी बाल कहानी

    उत्तर देंहटाएं
  3. यह बड़ी मशीन कौन थी, ये आपने बताया ही नहीं ?

    उत्तर देंहटाएं

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही नाका से जुड़ें. नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है.अपनी रचनाएँ rachanakar@gmail.com पर ईमेल करें. अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, समृद्ध व लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------