रविवार, 26 अप्रैल 2015

फरहा की दावत से कुछ आक्सी फ्राईड व्यंजन

फराह खान का कुकरी शो आप सबने देखा होगा. नहीं देखा हो तो इस सप्ताहांत जरूर देखें और यदि संभव हो तो इसके पुराने एपीसोड के री-रन देखें. इस कुकरी शो की खास बात यह है कि खाना बनाने के लिए सेलेब्रिटी तो आते ही हैं, और खाना बनाने की कोशिश करते ही हैं - क्योंकि यह कुकरी शो है, मगर इसे दमदार कॉमेडी का तड़का भी दिया गया है. स्क्रीन पर खाना बनते देख आप हँस-हँस कर लोटपोट होते रहते हैं.

फरहा खान अपने कुकरी शो में अंत में एक आइटम आक्सी फ्राई (ऑक्सी फ़्राई या oxy fry जो कि वस्तुतः air fry होता है) से बनाने का जरूर रखती हैं. दरअसल यह पारंपरिक तंदूर से पकाने जैसा ही होता है, बस इसमें गर्म हवा के स्ट्रीम से खाना जल्दी व एकसार पकाया जाता है, और इसके लिए तेल बहुत कम लगता है. इसीलिए इसे एयर फ्राईड / एयर फ्रायर भी कहा जाता है.

 

ऐसी ही एक रेसिपी आपके लिए - ऑक्सी फ्राईड फूलगोभी :

500 ग्राम फूल गोभी को एक इंची आकार में काटें, और उसमें बेसन, स्वादानुसार नमक, मिर्च, स्वादानुसार गरम मसाला, एक चम्मच तेल और दही डालकर अच्छे से मिलाएँ जैसा कि फूल गोभी के पकौड़े बनाते हैं. अब इसे फ्रीजर में आधे घंटे के लिए मेरीनेट होने के लिए रख दें. आपकी तैयारी कुछ ऐसी दिखेगी -

image

 

आधे घंटे बाद इसे फ्रीजर से निकार कर अपने एयर फ्रायर / ऑक्सी फ्रायर अथवा कन्वेक्शन ओवन में 15-20 मिनट के लिए रख दें. तापक्रम और समय का ध्यान रखें और बीच बीच में चेक करते रहें. नहीं तो फूलगोभी कम पकेगी या अधिक पक कर जल जाएगी. जब फूलगोभी लाल होने लगे तो  निकाल लें, प्लेट में सजाएं और अचार या चटनी के साथ परोसें.

एंड प्रोडक्ट कुछ ऐसा दिखेगा - जिसे देख कर ही खाने का मन करेगा.

image

 

आप इस विधि / ऑक्सी फ्राई रेसिपि को तमाम अन्य सामग्री के साथ एक्सपेरीमेंट कर आजमा सकते हैं. उदाहरण के लिए, नीचे ऑक्सी फ्राई आलू देखें. मुँह में पानी आया या नहीं?

 

image

 

.

0 blogger-facebook

एक टिप्पणी भेजें

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

------------------------------------------------------------

प्रकाशनार्थ रचनाएँ आमंत्रित हैं...

1 करोड़ से अधिक पृष्ठ-पठन, 1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक तथा 2000 से अधिक फ़ेसबुक प्रसंशक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को इंटरनेट के विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही नाका से जुड़ें. नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है.किसी भी फ़ॉन्ट, टैक्स्ट, वर्ड या पेजमेकर फ़ाइल में रचनाएँ rachanakar@gmail.com पर ईमेल करें. अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, समृद्ध व लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------