रविवार, 12 जुलाई 2015

आशीष निशि की रसोई से - फ़्यूज़न सांभर

फ्यूजन सांबर

aasheeSh nishi kee rasoee se - phyoojan saanbhar - rasoi vyanjan
सामग्री : फ्रिज खोल लें। जो भी सब्ज़ी पसंद हो, अंदाजन मात्रा में निकाल कर काट लें  जैसे कि मुनगा (सहजन की फली), बैंगन, मूली, शिमला मिर्च , गाजर आदि। इन सबको अरहर (तुअर) की दाल के साथ उबाल लें।
एक प्याज़ और प्याज़ के हरे पत्ते काट लें। साथ में थोड़ी सी करी पत्ता, स्वादानुसार हरी मिर्च , और कुछ टमाटर भी!
स्वादानुसार, इमली का पेस्ट बना कर तैयार रखें!

एक कढ़ाई में तेल गरम करें, और राई ज़ीरा का तड़का दें। उसके बाद करी पत्ता, प्याज़ , प्याज़ के हरे पत्ते , हरी मिर्च डाल कर भून लें। भुन जाने पर हल्दी, नमक और एक चम्मच सांबर पाउडर डाल दें। उसके बाद कटे टमाटर भी डाल दें।
टमाटर के पक जाने पर उबली सब्ज़ी और दाल डाल कर मिला लें। अब इमली का पेस्ट मिला दें।
इसके उपर हींग , कटी धनिया पत्ती  डालें और इडली या भात के साथ गर्मागर्म परोसें और स्वयं को भी भोग लगायें।

(आशीष के फ़ेसबुक पेज से साभार)

0 blogger-facebook

एक टिप्पणी भेजें

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

प्रकाशनार्थ रचनाएँ आमंत्रित हैं...

1 करोड़ से अधिक पृष्ठ-पठन, 1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक तथा 2000 से अधिक फ़ेसबुक प्रसंशक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को इंटरनेट के विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही नाका से जुड़ें. नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है.किसी भी फ़ॉन्ट, टैक्स्ट, वर्ड या पेजमेकर फ़ाइल में रचनाएँ rachanakar@gmail.com पर ईमेल करें. अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, समृद्ध व लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------