विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका - रचनाकार में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है. अपनी रचनाएं इस पते पर ईमेल करें : rachanakar@gmail.com

चीन की हिंदी भाषी छात्रा चांग छिन का हिंदी भाषा संबंधी संस्मरण

चीनी छात्रा शांति, जिसका चीनी नाम चांग छिन है ,का महाभारत पर एक गंभीर विश्लेषण से युक्त प्रदीर्घ संस्मरणात्मक आलेख।

हरि हरि महा “सान ऊ”

(एक ऐसा कर्म जिसका न कोई फल है और न फल की इच्छा ही)

                                                   --हिन्दी नाम शांति

                                                         (चीनी नाम चांग छिन)

image

 

礼赞“三无”

वक़्त गुज़रते पता नहीं लगता। देखते ही देखते मुझे "सान ऊ "उपशीर्षक रूपांतर ग्रुप(三无字幕组,SanWu Subtitle Translation Group) में भागमभाग मचाकर  काम करते हुए दो महीना पूरा हुआ | एक साल पहले "सान ऊ"उपशीर्षक रूपांतर ग्रुप इंटरनेट पर स्थापित हुआ । २०१३ संस्करण की टीवी सीरिज़ "महाभारत"को अँग्रेजी अनुशीर्षक से चीनी में अनुवाद करने के लिए इस समूह की सथापना हुई थी । “सान ऊ "(三无,SanWu)का शाब्दिक अर्थ है "तीन-हीन"अर्थात् गुण,क्षमता और प्रत्याभूति हीन। इसका यह नाम हँसी -हँसी में  दिया गया नाम है,जिसका अभिप्राय है कि हम जो भी सामग्री आप तक पहुंचा रहे हैं उसकी गुणवत्ता और क्षमता की कोई प्रत्याभूति यानी गारंटी हम नहीं लेते हैं। ग्रुप स्थापक ने यह नाम मज़ाक़ भले ही करने केलिए दिया लेकिन इससे उसकी गंभीरता और अच्छे से दायित्त्व निर्वहन के बोध का पता चलता है। वास्तव में इसी गंभीरता के कारण इन्टरनेट पर दर्शक "सान ऊ "उपशीर्षक रूपांतर ग्रुप के द्वारा चीनी में किए हुए रूपांतर की भूरि-भूरि प्रशंसा करते रहते हैं |ग्रुप का प्रत्येक  सदस्य उत्साह से बिना किसी लाभ-लोभ और आत्मप्रचार की इच्छा के भरपूर और  बड़ी गंभीरता से अपना नियोजित काम करता रहता है। सबका काम बंटा हुआ है। कुछ लोग अँग्रेजी उपशीर्षक से चीनी में अनुवाद की अपने ऊपर जिम्मेदारी उठाते हैं तो कुछ लोग इन अनूदित चीनी उपशीर्षकों के प्रथम संशोधन का कार्यभार ग्रहण करते हैं। फिर कुछ लोग दूसरी बार उन्हें संशोधन करने की ज़िम्मेदारी लेते हैं। इसके बाद कुछ लोग नेटवर्क साधन के माध्यम से संशोधित उपशीर्षकों  को वीडियो में प्रवेश कराने (upload)की जिम्मेदारी लेते हैं।
(不知不觉我加入三无字幕组已经两个多月了。一年前三无字幕组成立,为翻译13版印度剧《摩诃婆罗多》。“三无”字 面意思是无质量,无效率,无保障,也即字幕组不保证翻译的质量及效率。当然,最初组长取这名字纯属卖萌。实际上字幕组的每个成员对这部剧尽心尽职,而字幕组的劳动成果也广受观众认可。组员不挣名不挣利不求回报纯凭兴趣埋头干活。组内分工有责,有人负责将英轴译成中文,有人负责初校,有人负责二校,有人负责 压轴上传视频等。)

उपशीर्षक के अलावा हमने "महाभारत"के कथानक, गाना तथा मध्यवर्ती गानों का  भी हिन्दी से चीनी में अनुवाद किया है। यहाँ तक कि हमने इसमें सम्मिलित  संस्कृत मंत्रों तथा गानों का भी  भारतीय मित्रों की  सहायता से भी अनुवाद किया है। यह कह सकते हैं कि जो भी रूपांतर हम कर सकते हैं कि उसमें  कोई कसर नहीं  छोड़ते हैं। हम केवल उपशीर्षक रूपांतर का कार्य ही नहीं करते बल्कि कहानी के साथ साथ "महाभारत"में दृष्टिगोचर भारतीय संस्कृति को भी अधिक हिंदी,चीनी और अँग्रेजी सामग्री पर अध्ययन करने के बाद व्याख्या करते हैं। उदाहरण के तौर पर महाभारत युद्ध में जब उत्तरा  के छोटे भाई कुमार उत्तर की मृत्यु हई  और उसके अंतिम-संस्कार के लिए शव को ले जाते समय के चलने वाले  दृश्य में हमने स्क्रीन पर"अन्त्येष्टि संस्कार"की  विस्तार में चीनी में व्याख्या लगाई  ताकि दर्शक वीडियो देखने के समय इस भारतीय संस्कार को बेहतर ढंग से समझ सके।

(除了字幕,剧的主题曲、插曲也被译出来。甚至剧中出现的梵语咒语等,借助网络资料,求助sharmaji或印度友人,能翻译的组员都尽量译出来了。可以说,凡所能译,我们不遗余力。此外,对剧中出现的印度文化特色的内容,我们也查阅了中文、英语及印地语相关资料注释在屏幕上。举个栗子,在大战中就义的至上王子的葬礼场景出现时,屏幕上方便有“火化礼”的注释说明,如此观众观看剧时便能更好地理解印度文化。)

"सान ऊ "अनुशीर्षक रूपांतर समूह  के सदस्यों में से कुछ लोग  अपने  वास्तविक जीवन में कर्मचारी हैं तो कुछ लोग अध्यापक  और कुछ लोग विद्यार्थी भी हैं। हम कभी भी एक दूसरे को नहीं मिले  पर एक ही समान रचि से हम साथ बढ़ रहे हैं यानी महाभारत ने हमारे दिलों को परस्पर  जोड़ने का काम किया है। साथ-साथ काम करने में मुझे दोस्ती का एहसास मिला है |हम एक दूसरे के बढे हुए हाथों को गर्मजोशी के साथ थामते हैं |रूपांतर के कार्य में हमें एक भी  पैसा नहीं मिला। कभी-कभी कुछ सदस्य अर्धरात्रि तक इसी काम में व्यस्त रहते हैं। खाना-पानी तक भूल जाते हैं। ऐसा करते समय किसी -किसी को तो होश ही नहीं रहता कि वह कहाँ है और कब से बैठा है। इसमें एक तो मैं ही हूँ जो प्रायः भूल जाती हूँ कि कहाँ हूँ और कबसे हूँ। हमने इस काम में अपने जीवन की बहुत अधिक  अवधि  व ऊर्जा लगा दी  है। लेकिन यह सब न ही ख्याति प्राप्त करने के लिए किया है और न ही लाभ पाने के लिए। बस इस मन और मस्तिष्क  को हिला कर रख देने  वाले  “महाभारत ”के  अनुवाद से  अपना मनोरंजन करते हैं। यह सब करते हुए खुद में सिमटे रहते हैं|बाहर की  बजाय अपने भीतर की दुनिया से साक्षात्कार करके नए सुख का अनुभव हो रहा है। अपने भीतर मौजूद कृष्ण के विराट रूप को देखकर मेरे मन रूपी अर्जुन का अब इस दुनिया से मोह खत्म हो गया है। इसी वजह से हम इसे एक सार्थक मुहिम मानकर अपना समय सार्थक कर रहे हैं। दुनिया इसे भले सामी की बर्बादी  समझे पर मैं नहीं  समझती | इसके  प्रति उनका रुझान और प्रेम बढ़ाना तथा प्रेम बढ़ाकर उन्हें भारत की संस्कृति उसके जन समुदाय से जोड़ना मैं अपना सांस्कृतिक कर्म समझती हूँ। इसे धर्म का कार्य  समझती हूँ। यह ऐसा कर्म है जहाँ फल नहीं है और न ही इच्छा |अधिक से अधिक चीनी दर्शकों को इस धारावाहिक से जोड़ना तो हमारे जीवन में मिला एक सुखदायक वरदान है|

(组 员中,有公司职员,有老师,有学生。我们从未见过面,不知道对方的长相,却因共同的爱好而走在一起,也即是摩诃婆罗多让我们走到了一起。组员协同工作,携手共度,经常还有组员废寝忘食忙到半夜三更。我们往其中投入自己大量的时间与精力,不为名不挣利。一切倾献,均归于这部触动心弦的电视剧。不问外界是非, 拜谒己身内在,体味迥异欢愉,好比目睹黑天的宇宙相后,阿周那舍弃外物依恋。我们自认所为有意义,因而耗于其上的时间也便有价值。这是我们的“业”,不图果报不附意愿。而我自己,更是乐于见到越来越多的人对摩诃及对印度文化燃起兴趣和喜爱。越来越多的中国观众喜欢上这部剧,是我们幸运的恩赐。)

(हर महीने  "सान ऊ "अनुशीर्षक रूपांतर ग्रुप के सभी सदस्य मिलकर लगभग २० एपिसोड का अनुवाद करते हैं। )

(每月三无字幕组更新20集左右)

image

यह महाभारत मेरे जीवन में कैसे आया इसकी भी बड़ी दिलचस्प कहानी है। इस गर्मी की छुट्टियों में मैंने २०१३ संस्करण की टीवी सीरिज़ "महाभारत"देखने लगी जिसने मेरी दृष्टि को काफ़ी हद तक बदल के रख दिया। तबसे मेरे  होंठों पर महाभारत के पात्रों के नाम बसे हुए हैं-अर्जुन, कृष्ण ,युधिष्टिर ,कर्ण,द्रोण,महामहिम  भीष्म आदि। महाभारत ने मेरे जीवन में घुसपैठ करके मेरा जीवन ही बदल डाला है। अब जब मुझे मेरे हिन्दी शिक्षक श्री शर्मा जी मिलते तो मैं उन्हें दोनों हाथ जोड़कर “प्रणाम” करती हूँ और उन्हें  गुरुदेव संबोधित करती हूँ। मेरे गुरुदेव डॉ.शर्मा जी भी अपना  दायाँ हाथ उठाकर “आयुष्मती  भव और यशस्वी भव ” का आशीर्वाद देते हैं।  "महाभारत" के प्रति अपने गहन प्रेम  और  सहायता करने की उनकी आलस्यहीन इच्छा  से मुझे बड़ा बल मिला और मैं खुशी-खुशी "सान ऊ "उपशीर्षक रूपांतर दल  में सम्मिलित  हो गई। इस ग्रुप में लगभग ३० लोग शामिल हैं,जिनमें मुश्किल से केवल एक-दो  को ही हिंदी आती है। मुझे हिंदी की पढ़ाई करते हुए तीन साल हो चुके हैं । ग्रुप में मेरा कार्य ये है कि  उपशीर्षक रूपांतर को संशोधित  करूँ। हिंदी गानों का  चीनी में अनुवाद करूं और भारतीय संस्कृति से जुड़े ज्ञान की व्याख्या भी करूं।

(今年暑假,我正式追剧,刷完剧也顺道刷三观。自此,摩诃婆罗多角色名常驻我口——阿周那,奎师那,坚战,迦尔纳,德罗纳,毗湿摩大人等等。深中摩诃毒,无药可解。现在每每见到老师sharmaji都叫他gurudev,不自觉双手合十,道声“pranaam(向您问安)”,此时sharmaji也会很配合地举起右手,作赐福状,“aayushmatibhav(愿你长生)或yashasvibhav(愿你名盛)”。 因为喜爱这剧,我决定加入字幕组,希望自己能运用所学帮上忙。组内大概有三十个成员,但懂印地语只有一两个。我学过三年多印地语,在组内干的活是校对及顾问,也即校对其他成员从英文字幕翻成的中文字幕,查错补漏,注释印度文化相关补充说明观众看剧可能有疑惑的地方,偶尔也听译歌词。)

(स्क्रीन पर भारतीय संस्कृति की व्याख्या )

(屏幕上方与印度文化相关的注释说明)

२०१३ संस्करण के  "महाभारत" के कुल-मिलाकर २६७ एपिसोड हो चुके  हैं और "सान ऊ"उपशीर्षक रूपांतर ग्रुप को इसे रूपांतरण का कार्य  करते हुए एक साल पूरा हो चुका है। “महाभारत ”के चीनी में रूपांतर कार्य को एक दीर्घकालिक परीक्षण कहें तो कोई अत्युक्ति न होगी |पहले केवल गिने-चुने दर्शकों ने महाभारत देखा। धीरे-धीरे दर्शकों की संख्या बढ़ती गई  और अब तो  इंटरनेट पर हज़ारों चीनी  दर्शक इसे देख रहे हैं।

यहाँ  केवल मनोरंजन की भावना से महाभारत को नहीं देखते  बल्कि सांस्कृतिक रूप से महान देश भारत, भारतीय समाज व संस्कृति के ज्ञान हेतु भी देखते हैं। भारतीय समाज और उसकी संस्कृति से संबंधित जानकारी भी जानने-समझने में चीनी जनता की बड़ी रुचि है। दिनोंदिन इस धारावाहिक में चीनी दर्शकों की ज़बरदस्त रूचि बढ़ी है। इस रुचि का यह आलम है कि हम एक भी एपिसोड का रूपान्तर विलंब से नहीं कर सकते। हम दर्शकों की भावना का ध्यान पहले रखते हैं,अपना बाद में। यहाँ तक कि बीमार होने पर भी यह काम बंद नहीं करते क्योंकि मुझे पता है कि मेरे दर्शकों के जीवन में महाभारत अब बहुत महत्त्व रखता है। मेरी ही तरह उन्हें भी इस महाभारत के बिना अपना  जीवन  अधूरा-अधूरा -सा लगता है।

image

दर्शक इस धारावाहिक पर अपने गंभीर विचार प्रकट करते हुए आपस में विचार -विनिमय करते रहते हैं। कुछ दर्शक महाभारत के पात्रों के प्रति  अपना प्रेम व्यक्त करते हैं तो कुछ इसके सांस्कृतिक और राजनीतिक पहलुओं की चर्चा में व्यस्त रहते हैं। सभी दर्शक कुछ न कुछ करने के लिए आतुर रहते हैं। कुछ लोग इंटरनेट पर महाभारत के पात्रों से जुड़े चित्रों को साझा करते रहते हैं |कुछ लोग महाभारत से जुटाई गई सामग्री पढ़ने में व्यस्त रहते हैं । कुछ लोग महाभारत के नायक व नायिका के फैन बनकर उनसे संबंधित जानकारी पर चर्चा करते हैं और परस्पर साझा भी करते हैं। अन्याय के विरुद्ध खड़े होने और धर्म की प्रतिष्ठा के लिए पांचजन्य फूँकी जा रही हूँ। “महाभारत ” के पात्र स्वीकृति के साथ अस्वीकृति ,धर्म के साथ अधर्म ,सत्य के साथ असत्य तथा जन्म ,जीवन ,यौवन ,ज़रा और मरण पर चर्चा में ही बहुत सारा समय व्यतीत करते हैं | दर्शक के रूप में हम भी स्क्रीन के बाहर इन पात्रों के द्वारा सुख-दुःख भोगे जाते हुए देखकर हमारे मन में भी सुख-दुख की भिन्न-भिन्न भावनाएं उठती रहती हैं |

(13版《摩诃婆罗多》一共267集, 字幕组翻译了一年多。把此役称为持久战一点也不为过。从一开始寥寥几个观众到如今上万观众在追更新。许多观众不止抱着娱乐的心态看剧,也对印度社会及文化燃起兴趣。字幕组更新及时,填足观众胃口。甚至有组员身体抱恙也不忘干活。许多观众现在也和我一样,没有摩诃婆罗多当菜下饭,生活会缺几分味道。观众们观 剧时也不忘深入思考。有的讨论着自己喜欢角色的相关信息,有的开始扒跟印度文化相关的资料文献,有的创作与摩诃角色相关画作,有的分享着摩诃演员的真实生活。当五生螺号响起,不义遭诛,正法得塑。剧里人物相爱相杀,正法不义并存,真相假相同在。出世,过活,青春,老去,归天。他们在剧里经营自己的生命,我 们在剧外与他们同悲同喜。)

इस टेढ़े –मेढ़े बीहड़ रास्ते पर चलते हुए हमारे सामने भी पांडवों के अज्ञातवास की तरह नाना व्यवधान खड़े होते रहे हैं और कभी- कभी हमारे मन रूपी रथ के पहिये भी जाम होते रहे हैं। विसंगतियों और बाधाओं की धुंध से कभी-कभी राज पथ भी धुंधला-धुंधला नज़र आता रहा है। उदाहरण के तौर पर इंटरनेट से जैसे-तैसे डाउनलोड हुए अँग्रेजी अनुशीर्षकों में अधिक ग़लतियाँ भरी होती हैं, जिनपर हमें कई बार अनुशीर्षक को पुष्ट करने के वास्ते हमें ख़ास सावधानी जुटानी पड़ती है।

हमारे इस ग्रुप में बहुत सारे सदस्यों को हिंदी नहीं आती । इसी वजह से यह कार्य दूभर प्रतीत होता रहा है |हम चाहते तो आराध्य भगवान श्रीकृष्ण की तरह रणछोड़ बन सकते थे पर न तो हमें बंधनों और अड़चनों से डर लगा और न ही दिक्कतों से मुंह बिचकाकर हमने मैदान छोड़ा। इस मुहिम को लेकर हम सदा गंभीर रहे। हम अपने मन को कभी कमजोर नहीं पड़ने दिए| इस काम में मिली हमारी जो भी छोटी-मोटी जीत है,उसमें सबसे बड़ा अस्त्र मैं महाभारत के प्रति अपना प्यार मानती हूँ|इस कारी में सबसे बड़ी सफलता तो यही है कि इस मिशन को पूरा करने के लिए ग्रुप के कुछ नए सदस्य भी अब स्वयं हिंदी सीख रहे हैं |

(在 这条崎岖道路前行时时有路障碍行,好比般度五子隐匿期,殃灾不断。有时途中有石绊脚,有时我们的车轮陷入坑中。举个栗子,字幕组从网上扒到的英轴错误颇多,为了确保翻译准确度,组员便对初翻多次校对。大部分组员不懂印地语,因而略显棘手。或许我们可以像天神奎师那一样当个“临阵逃脱者”,但组员既未望而 生怯,也未临阵脱逃。一路坎坷,一次次化险为夷,因为我们拥有最有力的武器——一心热爱。有的组员甚至自学起印地语。我们也有很多缺陷,但这也是我们成长的痕迹。)

इस टीवी धारावाहिक के रूपांतर कार्य में हमारे लिए सबसे कठिन भाग  महायुद्ध के आरंभ से पूर्व कृष्ण का अर्जुन को जीवन और जगत के जटिल विषयों के संदर्भ में भगवद्गीता के दर्शन का उपदेश देनारहा है| ऋषियों-मुनियों के लिए भी गूढ रहा भगवद्गीता के दर्शन का चीनी भाषा में रूपान्तर हमारे लिए एक बड़ा मुश्किल इम्तिहान बना है|रूपांतर में गुणवत्ता तथा परिशुद्धि के लिए हमने विभिन्न भाषाओं के दस से अधिक संस्कारण देखे। अपने विश्व विद्यालय के उन भाषाओं के ज्ञाताओं से भगवद्गीता की अलग-अलग जानकारी ली। अंततः हिन्दी और संस्कृत संस्करणों का प्रो.गंगा प्रसाद शर्मा के सहयोग से गहन अध्यन-मनन किया |

भगवद्गीता का अनुशीर्षकों संशोधन और रूपांतरण सबसे भारी लगा। इसमें सुविधा पाने केलिए मैंने पूरी भगवद्गीता सुनकर उसे हूबहू लिखने का हर संभव प्रयास किया। इस प्रक्रिया में बहुत लंबा समय लगा। पन्ने दर पन्ने जुड़ते गए|लेकिन सौभाग्य है कि इससे मेरा उत्साह कम नहीं हुआ। उल्टे स गंभीर दर्शन में गहरे डूबती चली गई । इसका गहन अवगाहन करके आनंद मग्न हुई। इसदर्शन-अवगाहन में अपने गुरुदेव डॉ. शर्मा जी का भरपूर सहयोग मिला। परिणामतः भगवद्गीता के दर्शन पर मैंने अपने विचारों कों भी लिपिबद्ध करना शुरू किया,जिनके कुछ हस्तलिखित पृष्ठ यहाँ भी  संलग्न कर रही हूँ।

(“भगवद्गीता ”एपिसोड के रूपांतर में हमारी ग्रन्थसूची)

(翻译“薄伽梵歌”那几集的参考书目)

इस मिशन को पूरा करने में श्रीमद्भग्वद्गीता बहुत सहायक हूई। श्रीमद्भगवद्गीता में ऐसा विचार प्रकट किया गया है कि मनुष्य जब भी सुख की ,संपत्ति की ,प्रशंसा की आशा लगाकर कोई कार्य करता है तो वह उस कार्य के फल से बंध जाता है। अतः हम अपने कार्यों से संपत्ति और प्रशंसा की इच्छा रखकर फल से बंधना नहीं चाहते। हम तो केवल अपने कार्य कों पूर्ण करने की कोशिश रहते हैं। इसी वजह से क्या खोया और क्या पाया इसका हमारे लिए कोई महत्व नहीं है |हम तो बस कर्म किए जा रहे हैं। इस "महाभारत" नाम के समुद्र के तल पर ज्ञान के प्रकाश की चमकसे हम चकमका रहे हैं। इस प्रकाश की अथाह किरण राशि है,जिसमें हम मुग्ध होकर रह गए हैं | जैसे-जैसे अप्रत्याशित रूप से अधिक से अधिक चीनी दर्शक “ महाभारत ”के प्रति अपेक्षा से कहीं बहुत अधिक प्रेम बढ़ाते हुए मिल रहे हैं,वैसे-वैसे हम गर्मी में शीतलता पाने के प्रयोजन से  इस समुद्र में और गहरे और गहरे गोते लगाते जा रहे हैं और संयोगवश इन गीतों में अमृत तथा मोती भी पीते और पाते आ रहे हैं |

(翻 译这部剧的过程中,字幕组碰见的最棘手的剧情,大概便是大战前奎师那对阿周那传授薄伽梵歌那一部分了。仙人、牟尼也在钻研的薄伽梵歌,对我们而言更是一大考验。为确保翻译质量及准确度,组员查阅了多个语种的十来个版本的《薄伽梵歌》。为方便干活,我也将那几集所有台词都尽量听写了出来,耗费不少功夫,写了 一大沓纸,但我乐意嘻嘻~《薄 伽梵歌》里提到一个观点,人行事,若怀得乐、求财、受夸之心,便受行动的结果所缚。字幕组干活,不为名利不求褒奖,一心无非努力完成这项浩大工程。正如薄伽梵歌里面提到的,完成行动,不为果报。因而,得失于我们而言已不重要。摩诃婆罗多仿若深海,我们深深着迷于海面闪光的斑驳。外界酷热,为寻清凉,我们倾 身入海,在微波中忘我畅游。而达海底啜得甘露、取得宝珠,皆因凑巧。)

जब शर्मा जी ने मुझे निराला  जी द्वारा लिखित “वह तोड़ती पत्थर ”नामक कविता पढ़ाई  तब मुझे "सान ऊ "अनुशीर्षक रूपांतर ग्रुप का काम याद आगया  | हमें लगा कि हमारे लिए “महाभारत ” को रूपांतर करने का कार्य हमारे हाथों में वो कठोर पत्थर है,जिसे धूप में बैठकर ही तोड़ना है| यहाँ “कोई न छायादार पेड़”है और न कोई बाहरी सहायता। जिसके तले बैठ कर वह कोमल गात पत्थर तोड़ सके। मुझे साफ़-साफ़ दिख रहा था,“चढ़ रही थी धूप ;गर्मियों के दिन ,दिवा का तमतमाता रूप ;उठी झुलसाती हुई लू रुई ज्यों जलती हुई भू ,गर्द चिनगीं छा गई ……”। कभी-कभी हमें यह भी लगा कि हमारे सामने एक ज्वलंत अग्निपथहै,जिस पर चढ़कर और चल कर ही मंज़िल मिल सकती है | जीवन के इस अग्नि पथ पर कभी आंसू है, कभी खून है और कभी पसीना है पर , “चलना सदा ही हमारा काम है ,जब तक न मंज़िल पा सकें ,तब तक हमें न विराम है |”इस पथ पर चलते हुए फिर से याद आ जाती है निराला की कर्मरत युवती, “नत नयन ,प्रिय-कर्म-रत मन ,गुरु हथौड़ा हाथ ,करती बार-बार प्रहार |ढुलक माथे से गिरे सीकर ,लीन होते कर्म में। “अपनी बचकानी बुद्धि के हाथों हम भी तो गंभीर दर्शन के पत्थर तोड़ ही रहे हैंन !

(当课上sharmaji讲到niralaji名作《敲石头》时,我想到了三无字幕组。翻译《摩诃婆罗多》这一浩大工程,便如字幕组握在掌心的坚硬石块。“她坐在树底下忍受着烈日的照射”“炎夏,阳光正逞威风/天气热得如火炉/忽而卷起烫人热风/大地像着火棉絮…手中拿着铁锤/垂着两眼/一心一意敲石头…额上滚落滴滴汗珠…”【引号取自印地语诗《敲石头》(vahtodatipatthar)】如此,烈阳下,字幕组敲着坚石,一心一意,全神贯注。有时也会觉得我们跟前摆了一条火道,为寻圆满跌跌撞撞。时而泪濡面,时而血浸衫,时而汗浃背【此处化用印地语诗《火道》(agnipath)中的一句诗】,但步伐不止行动不息。未达终点不歇息。)

अंत में मैं अपने गुरुदेव शर्मा जी को अपना हार्दिक धन्यवाद देना चाहती हूँ | उन्होंने मेरी संशोधन कार्य में मुझे भारी मदद दी है| इस कृपा के लिए मैं सदैव उनकी आभारी रहूंगी|

( 最后,我想表达对我的“gurudev”sharmaji的感谢。在我的校对过程中,他帮了我不少忙。此恩难忘,谢意永存。)

विषय:
रचना कैसी लगी:

एक टिप्पणी भेजें

Very nice job done by You Madam ji... Keep it up! God bless You!

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु बेनामी टिप्पणियाँ बंद की गई हैं (आपको पंजीकृत उपयोगकर्ता होना आवश्यक है) तथा साथ ही टिप्पणियों का मॉडरेशन भी न चाहते हुए लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget