शंकर पुणतांबेकर को श्रद्धा सुमन स्वरूप उनके दो व्यंग्य

-----------

-----------

image

शंकर पुणतांबेकर आला दर्जे के व्यंग्यकार थे. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें.

 

उन्हें श्रद्धा सुमन स्वरूप, रचनाकार में पूर्व प्रकाशित उनके दो व्यंग्य का पुनर्पाठ करते हैं -

 

1 - नेता जी की षष्ठ्यब्धि पर हिंदी व्यंग्यकारों की बधाईयाँ

 

2 - साहित्य

 

जल्द ही उनका एक और व्यंग्य प्रकाशित करेंगे.

-----------

-----------

0 टिप्पणी "शंकर पुणतांबेकर को श्रद्धा सुमन स्वरूप उनके दो व्यंग्य"

एक टिप्पणी भेजें

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.