विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका - रचनाकार में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है. अपनी रचनाएं इस पते पर ईमेल करें : rachanakar@gmail.com

साहित्य समाचार / राजा चौरसिया और डॉ. अजय जनमेजय को मिला प्रभा स्मृति बाल साहित्य सम्मान - बालपत्रिका बाल प्रभा का विमोचन

image

समाचार

-------------

राजा चौरसिया और डॉ. अजय जनमेजय को मिला प्रभा स्मृति बाल साहित्य सम्मान

-
बालपत्रिका बाल प्रभा का विमोचन

--

श्री गाँधी पुस्तकालय ,शाहजहांपुर द्वारा आयोजित भव्य सम्मान समारोह में

कटनी, मध्य प्रदेश के वरिष्ठ बाल साहित्यकार राजा चौरसिया और बिजनौर के

डॉ. अजय जनमेजय को वर्ष 2014 और 2015 का प्रभा स्मृति बाल साहित्य सम्मान

प्रदान किया गया। इस अवसर पर शाहजहांपुर के जिलाधिकारी विजय किरन आनंद  ने कहा
कि बचपन में कोमल मन पर पड़े हुए अमिट संस्कार ही राष्ट्र के भविष्य की दिशा
तय करते हैं अत: हर बच्चे को अच्छा साहित्य पढने को दिया जाना चाहिए।

उन्होंने प्रभा सम्मान स्वरुप   स्वरूप दोनों साहित्यकारों को प्रशस्ति
पत्र, प्रतीक
चिन्ह,

अंग वस्त्र, नारियल और तीन हजार एक सौ रूपये (3,100/-) की राशि प्रदान की।

इस अवसर पर जिलाधिकारी तथा मंचस्थ अतिथियों ने बालपत्रिका बाल प्रभा का

विमोचन भी किया।

श्री राजा चौरसिया जी ने कहा कि निष्पक्ष भाव और अगाध आत्मीयता से उनका सम्मान
हुआ है, जिसे वे जीवन भर न भुला सकेंगे।  लेखक और बच्चों के चिकित्सक डॉ. अजय
जन्मेजय ने कहा कि ऐसे आयोजन जन जागरण और सामाजिक चेतना का कार्य करते हैं। आज
बच्चों के संवेगात्मक  विकास को  लेकर विशेष सजग होने की आवश्यकता हैं क्योंकि
नई पीढ़ी भावना से अधिक भौतिकता के पीछे भाग रही है।

सम्मान समारोह की अध्यक्षता बाल कविता के मर्मज्ञ सहारनपुर के श्री कृष्ण

शलभ ने की।

इस मौके पर  उन्होंने नये परिवेश में बाल कविता विषय पर आयोजित संगोष्ठी

में कहा कि बाल कविता ने हमेशा बाल मन और उसकी संवेदना के साथ हमेशा युगीन
परिवेश  को रेखांकित किया है। बचपन की उपेक्षा राष्ट्र की उपेक्षा है। आज ऐसे
मंचों की विशेष आवश्यकता है जो बच्चों में साहित्यिक संस्कार जाग्रत कर उन्हें
राष्ट्र के समर्थ नागरिक बना सकें।

 

 

कवि अजय गुप्त की पुत्री प्रभा की स्मृति में प्रतिवर्ष दिया जाने वाला प्रभा

बाल साहित्य सम्मान अब तक डॉ. नागेश पांडेय 'संजय', निर्मला सिंह, बरेली,

डॉ. बलजीत सिंह, बिजनौर और सुकीर्ति भटनागर, पटियाला को प्रदान किया जा

चुका है।

 

इस अवसर आकांक्षा, शिवानी, अनन्या, बुशरा आफरीन, श्रेया, आयुषी, सृष्टि, सृजन,
शिवादित्य, स्नेहा, आराध्या, प्रज्ञा आदि कई बच्चों ने बालकविता पाठ किया। सभी
बच्चों को पुरस्कृत किया गया।

समारोह में डॉ. हरिओम त्रिपाठी, अरविन्द मिश्र, चन्द्रमोहन दिनेश,

देशबन्धु शाहजहाँपुरी, सतीश मिश्र, विजय कुमार, अनूप गुप्त, ब्रजेश
मिश्र, डॉ. साजिद खान, ब्रजेश पांडेय, डॉ.अरशद खान,कमल शील शुक्ल,
राजकुमार शर्मा, प्रमोद प्रमिल
, डॉ. रंजना प्रियदर्शनी, आशा गुप्ता, अरविन्द राज, अख्तर शाहजहाँपुरी, इरफ़ान
ह्यूमन, राजेश अवस्थी, शशि गुप्ता, ज्ञानेंद्र मोहन ज्ञान, अभिनय गुप्ता आदि
बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।। संचालन नागेश पांडेय संजय और

आभार शिवाजी गुप्त ने व्यक्त किया।

 

=============

=============

रचना कैसी लगी:

एक टिप्पणी भेजें

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु बेनामी टिप्पणियाँ बंद की गई हैं (आपको पंजीकृत उपयोगकर्ता होना आवश्यक है) तथा साथ ही टिप्पणियों का मॉडरेशन भी न चाहते हुए लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget