आलेख || कविता ||  कहानी ||  हास्य-व्यंग्य ||  लघुकथा || संस्मरण ||   बाल कथा || उपन्यास || 10,000+ उत्कृष्ट रचनाएँ. 1,000+ लेखक. प्रकाशनार्थ रचनाओं का  rachanakar@gmail.com पर स्वागत है

-------------------

बाल दिवस विशेष कविताएँ - कैलाश मंडलोंई

image

(1)

गीत खुशी के गाए हम....

------------------------

स्कूल हंसते-हंसते जाए,

कभी न रोते जाए हम।

नन्हे मुन्ने प्यारे बच्चे,

गीत खुशी के गाए हम।।

सारे जग से न्यारे हम,

सब की आँखों के तारे हम।

सब के राज दुलारे हम,

मम्मी पापा के प्यारे हम।।

नन्हे-नन्हे हाथों से,

अक्षर खुब जमाए हम।

चाहे कितनी भूलें करें,

फिर भी न घबराए हम।।

(2)

फूलों से मुसकाना तुम...

------------------------

रोज सबेरे जल्दी उठना

शाम समय से सोना तुम।।

सब काम समय पूरे करना।

मत काम अधुरा करना तुम।।

आये कितनी चाहे मुश्किल

बच्चों मत घबराना तुम।

ये कहना दादा-दादी का,

सही राह पर चलना तुम।।

भूले राही को राह दिखाना,

कभी न राह भुलाना तुम।

मन लगाकर पढ़ना-लिखना,

जग में नाम कमाना तुम।।

मात-पिता की सेवा करना,

गुरु जनों की सुनना तुम।

कभी न रूठना कभी न रोना

फूलों से मुसकाना तुम।।

(3)

तितली रानी

-----------------------------

तितली रानी तितली रानी,

पास हमारे आओ ना।

किसने रंगे है पंख तुम्हारे,

हमको भी बतलाओ ना।।

तितली रानी तितली रानी,

हमसे तुम शरमाओ ना।

हम भी तो है दोस्त तुम्हारे,

हमको भी बतलाओ ना।।

तितली रानी तितली रानी,

कुछ तो हमसे बोलो ना।

हम तो लाए खेल खिलौने,

साथ-साथ तुम खेलो ना।।

 

नाम -- कैलाश मंडलोंई

पिता -- श्री नानूराम मंडलोंई

पद :- सहायक शिक्षक

पदस्थ संस्था का नाम : कन्या. मा. वि. रायबिड़पुरा

विकास खण्ड जिला खरगोन (मध्यप्रदेश)

जन्म दिनांक :- 16-06-1967

शिक्षा :- एम. ए. हिन्दी,डी.एड.

अन्य योग्यता - 1-बेसिक स्काउट मास्टर्स कोर्स

2-एडवांस कोर्स

3- संयुक्त सचिव प्रशिक्षण स्काउट

विशेष कार्य एवं रुचि- वृक्षारोपण शाला परिसर मे 1000 पौधों का वृक्षारोपण कर एक गार्डन तैयार किया।

अन्य शैक्षिक गतिविधियाँ

इसके साथ अन्य दुसरी गतिविधियाँ भी चलती रही जैसे अतिरिक्त समय में 6,7.व 8 कक्षा के छात्र/छात्राओ को पढ़ाना तथा सुबह 6 बजे से 7.30 बजे तक योग की कक्षाऐ लगाना। योग की कक्षा में हाईस्कूल के बच्चे भी आते है ये कक्षाऐ मैं अक्टूम्बर, नवम्बर एवं दिसम्बर माह में लगता हूँ.

शैक्षिक सामग्री का निर्माण व प्रदर्शन

600 से अधिक विज्ञान एवं गणित के माडलों का निर्माण वह भी अनुपयोगी वस्तुओं से,1000 से अधिक कटाउट्स,1000 से अधिक चार्ट,अख़बार की कटिग जिसमे खाली माचिस डिबिया,खाली खोखे,रिफिल,पेन के ढक्कन,खाली टुथपेस्ट,प्लास्टिक पन्नियाँ,सइकिल रबरट्यूब,टपरीकार्डर की मोटरे,लकड़ी के गत्ते से बने माडल आदि

अन्य शालाओं के छात्र/छात्राओं को अपनी शाला में बुलाकर विज्ञान/ गणित माडलों का प्रदर्शन करना। वाद-विवाद प्रतियोगिता, निबन्ध प्रतियोगिता, सांस्कृतिक गतिविधियों का आयोजन करना व विभिन्न राष्ट्रिय एवं सांस्कृतिक दिवसो तथा महापुरुषो के जन्म दिनों पर ग्राम के लोगो एवं अन्य संस्था के कर्मचारियों को एकत्रित कर संगोष्ठियों का आयोजन करना।

लेखन कार्य- कविता, शैक्षिक लेख, गायन में रुचि, पुस्तकें पढ़ने का शौक

(1) शैक्षिक दखल पत्रिका के जुलाई 2016 अंक में लेख प्रकाशित

(2) शैक्षिक दखल पत्रिका के जुलाई 2016 अंक की समीक्षा लेखक मंच पर प्रकाशित

(3) हस्ताक्षर वेब पत्रिका में आलेख प्रकाशित

(4) देश बंधु में आलेख प्रकाशित

(5) रचनाकार में कविताएँ व लेख प्रकाशित

विशेष पुरस्कार : 1- जिला स्तर पर कलेक्टर द्वारा सम्मानित

2-जिला स्तर पर पर्यावरण पर सम्मानित

स्थाई पता : मु. पो.-रायबिड़पुरा तहसील व जिला- खरगोन (म.प्र.)

पिनकोड न.451439

मोबाईल नम्बर-9575419049

ईमेल ID-kelashmandloi@gmail.com

टिप्पणियाँ

----------

10,000+ रचनाएँ. संपूर्ण सूची देखें.

अधिक दिखाएं

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

---

तकनीक व हास्य -व्यंग्य का संगम – पढ़ें : छींटे और बौछारें

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद/अनुसरण करें

परिचय

1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही रचनाकार से जुड़ें.

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है. अपनी रचनाएं इस पते पर ईमेल करें :

rachanakar@gmail.com

अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

डाक का पता:

रचनाकार

रवि रतलामी

101, आदित्य एवेन्यू, भास्कर कॉलोनी, एयरपोर्ट रोड, भोपाल मप्र 462030 (भारत)

कॉपीराइट@लेखकाधीन. सर्वाधिकार सुरक्षित. बिना अनुमति किसी भी सामग्री का अन्यत्र किसी भी रूप में उपयोग व पुनर्प्रकाशन वर्जित है.

उद्धरण स्वरूप संक्षेप या शुरूआती पैरा देकर मूल रचनाकार में प्रकाशित रचना का साभार लिंक दिया जा सकता है.


इस साइट का उपयोग कर आप इस साइट की गोपनीयता नीति से सहमत होते हैं.