शुक्रवार, 2 दिसंबर 2016

रंगोत्सव 2016 का सफल आयोजन

विगत दिनों स्वराज भवन कला दीर्घा में रंगोत्सव 16 का आयोजन हुआ जिसमें कला आचार्यद्वय डॉ. रश्मि जोशी व डॉ. आलोक भावसार के संरक्षण व निर्देशन में साठ से अधिक नव-कलाविदों ने अपनी कलाकृतियों को प्रदर्शित किया.

कलाकृतियां संभावना से परिपूर्ण, प्रयोगधर्मिता से ओतप्रोत तथा तमाम प्राचीन-समकालीन-नवोन्मेषी विविध विधाओं में सृजित थीं, जिनसे इन नवकोंपलों के कलाजगत में उज्जवल भविष्य को सहज ही आंका जा सकता है.

यूँ तो प्रदर्शित सभी कलाकृतियाँ उच्च दर्जे की थीं, उनमें से कुछ चुनिंदा कृतियों को यहाँ प्रदर्शित किया जा रहा है. बाकी की अन्य तमाम कलाकृतियों को रचनाकार के इन पन्नों में अन्य साहित्यिक पृष्ठों पर यथासमय जगह दी जाएगी.

image

 

अवनीश सोनी की कलाकृति

अनुपमा चौहान की कलाकृति

पूजा मालवीय की कलाकृति

दिव्या पोरवाल की कलाकृति

नेहा सोनी की कलाकृति

गुंजा मालवे की कलाकृति

सरिता विश्वकर्मा

कुणाल बागड़े की कलाकृति

आकांक्षा वैद्य की कलाकृति

 

आदित्य दत्ता की कलाकृति

सुरभि नेमा की कलाकृति

विश्वी रावत की कलाकृति

 

कविता मनरीया की कलाकृति

सबा इफ़्तिख़ार की कलाकृति

साबिर की कलाकृति

हेमन्त सेन की कलाकृति

आलोक भावसार की कलाकृति

0 blogger-facebook

एक टिप्पणी भेजें

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

------------------------------------------------------------

और दिलचस्प, मनोरंजक रचनाएँ पढ़ें-

प्रकाशनार्थ रचनाएँ आमंत्रित हैं...

1 करोड़ से अधिक पृष्ठ-पठन, 1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक तथा 2000 से अधिक फ़ेसबुक प्रसंशक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को इंटरनेट के विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही नाका से जुड़ें. नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है.किसी भी फ़ॉन्ट, टैक्स्ट, वर्ड या पेजमेकर फ़ाइल में रचनाएँ rachanakar@gmail.com पर ईमेल करें. अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, समृद्ध व लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------