भावना कुँअर के 11 हाइकु

-----------

-----------

image

हाइकु

डॉ भावना कुँअर

1

कटता नहीं

जिंदगी का सफर

बोझिल राहें।

 

2

छाये दिल पे

उदासी के बादल

आँसू बरसे।

 

3

धड़कन ने

जब ली अँगड़ाई

वो याद आई ।

 

4

बढ़ती गयी

जो भँवर दुखों की

थमती नहीं ।

 

5

मेरे दुखों की

जब चली आँधियॉं

छाया अँधेरा ।

 

6

पलकों में थीं

मगर गिरी नही

आँसू की बूँद ।

 

7

जब भी मिली

हमें तो सफर में

धूप ही मिली ।

 

8

सच्चा प्यार ही

फॉंदकर दीवारें

पाता मंजिल।

 

9

टूटते रहे

मंजिल मिली नहीं

ढूँढ़ते रहे ।

 

10

जो गलियारे

थे सपनों के अब

सूखने लगे।

 

11

लिये बैठी है

गुलाब की पाँखुरी

ओस की बूँद।

-0-

 

bhawnak2002@gmail.com

-----------

-----------

3 टिप्पणियाँ "भावना कुँअर के 11 हाइकु"

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.