मंगलवार, 29 जुलाई 2014

रचनाकार.ऑर्ग संस्मरण लेखन पुरस्कार आयोजन 2014 के लिए प्रायोजन आमंत्रित

image

आप सभी सुहृदय पाठकों के सक्रिय सहयोग से रचनाकार.ऑर्ग में पिछले दो मौकों पर व्यंग्य तथा कहानी लेखन पुरस्कार आयोजन अत्यंत सफलतापूर्वक पूर्ण किए जा चुके हैं.

व्यंग्य लेखन पुरस्कार आयोजन के विवरण के लिए यहाँ देखें -
http://www.rachanakar.org/2009/08/blog-post_18.html

कहानी लेखन पुरस्कार आयोजन के विवरण के लिए यहाँ देखें -
http://www.rachanakar.org/2012/07/blog-post_07.html

इस बार संस्मरण लेखन पुरस्कार आयोजन 2014 प्रस्तावित है. संस्मरण लेखन में हर किस्म के संस्मरण – यात्रा, घटना, स्थिति-परिस्थिति, व्यक्ति आदि-आदि सभी - शामिल किए जाएंगे.

इस आयोजन हेतु आप सभी पाठकों से पुरस्कारों हेतु प्रायोजन के प्रस्ताव आमंत्रित हैं. यदि प्रायोजन आदि से पुरस्कारों हेतु पर्याप्त राशि/सामग्री प्राप्त होने की संभावना बनेगी तभी इस आयोजन को आगे बढ़ाया जाएगा, अन्यथा इसे छोड़ दिया जाएगा. यदि प्रायोजक चाहेंगे तो उनके नाम / आर्टवर्क / विज्ञापन / वेबसाइटों के लिंक आदि इस आयोजन की प्रविष्टियों के साथ प्रकाशित किए जाएंगे.

प्रायोजन में आप अपनी तरफ से कुछ भी, कितना भी दे सकते हैं. पुरस्कार राशि से लेकर अपनी स्वयं की या  रचनाकार मित्र की पुस्तकें आदि कुछ भी. याद रखें, बूंद बूंद से घट भरता है.
इस आयोजन हेतु रचनाकार.ऑर्ग की ओर से आरंभिक राशि रु. 5000/- जमा की जा रही है.
प्रायोजन हेतु अपने प्रस्ताव यहाँ टिप्पणी बॉक्स में दे सकते हैं (कृपया अपना ईमेल संपर्क सूत्र अवश्य दें) अथवा rachanakar@gmail.com पर ईमेल कर सकते हैं.

अद्यतन :  पर्याप्त प्रायोजन राशि / प्रायोजकों के अभाव में यह आयोजन अभी स्थगित किया जा रहा है.

3 blogger-facebook:

  1. सम्मानीय श्रीयुत श्रीवास्तवजी
    सादर नमस्कार
    आपकी नयी योजना का स्वागत है.मेरी कुछ जिज्ञासा है, उस पर अपनी प्रतिक्रिया देने की कृपा करें. (१) मेरे जितने भी लेख-आलेख-कविताएं-कहानियां तथा यात्रा-संस्मरण सारा की सारा आपकी पत्रिका में प्रकाशित होते रहे हैं. मैं उन्ही में से कुछ भेज पाउंगा.क्या ऎसा किया जा सकता है?.नया जितना भी होता है उसे आप समय-समय पर प्रकाशित कर ही देते हैं.
    प्रकाशित रचना क्या भेजी जा सकती है? स्प‍ष्ट करने की कृपा करें.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. सम्मानीय श्रीयुत गोवर्धन यादव जी
      प्रतियोगिता के लिए रचना का मौलिक, अप्रकाशित और अप्रसारित होना अनिवार्य शर्त होगी - ध्येय है उत्कृष्ट नव सामग्री सृजन का.

      हटाएं
  2. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

------------------------------------------------------------

प्रकाशनार्थ रचनाएँ आमंत्रित हैं...

1 करोड़ से अधिक पृष्ठ-पठन, 1.5 लाख गूगल+ अनुसरणकर्ता, 1500 से अधिक सदस्य

/ 2,500 से अधिक नियमित ग्राहक तथा 2000 से अधिक फ़ेसबुक प्रसंशक
/ प्रतिमाह 10,00,000(दस लाख) से अधिक पाठक
/ 10,000 से अधिक हर विधा की साहित्यिक रचनाएँ प्रकाशित
/ आप भी अपनी रचनाओं को इंटरनेट के विशाल पाठक वर्ग का नया विस्तार दें, आज ही नाका से जुड़ें. नाका में प्रकाशनार्थ रचनाओं का स्वागत है.किसी भी फ़ॉन्ट, टैक्स्ट, वर्ड या पेजमेकर फ़ाइल में रचनाएँ rachanakar@gmail.com पर ईमेल करें. अधिक जानकारी के लिए यह लिंक देखें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html

विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, समृद्ध व लोकप्रिय ई-पत्रिका - नाका

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------