नाका - विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका. 

विविध विधाओं में से चुनकर पढ़ें -

* कहानी  || * उपन्यास || * हास्य-व्यंग्य  || * कविता  || * आलेख  || * लोककथा  || * लघुकथा  || * ग़ज़ल  || * संस्मरण  || * साहित्य समाचार  || * कला जगत  || * पाक कला  || * हास-परिहास  || * नाटक  || * बाल कथा  || * विज्ञान कथा  ||  * समीक्षा  ||

---***---

यहाँ की विशाल ऑनलाइन लाइब्रेरी में मनपसंद रचनाकार अथवा रचनाएँ खोज कर पढ़ें -

 नाका में प्रकाशनार्थ  रचनाएं इस पते पर ईमेल करें : rachanakar@gmail.com  रचनाकार के वाट्सएप्प नंबर 8989162192 (कृपया कॉल नहीं करें, कॉल रिसीव नहीं होगी, तथा इसका उपयोग केवल प्रकाशनार्थ रचना भेजने के लिए ही करें) पर भी वाट्सएप्प से रचनाएँ अथवा रचना पाठ के वीडियो प्रकाशनार्थ भेजे जा सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए यह पृष्ठ [लिंक] देखें.

--

चुटकुले 503 - 527

**-**
प्रतिभास (http://pratibhaas.blogspot.com/2006/07/blog-post.html
http://pratibhaas.blogspot.com /2006/07/2.html
http://pratibhaas.blogspot.com /2006/07/3.html ) ने तीन तीन दफ़ा हँसाने की कोशिशें कीं-

चुटकुला # 0503

एक नौजवान ने बहुत सारी कोशिशे की पर बच्चा पैदा करने में सफल नहीं हो सका। किसी ने उसे सलाह दी कि एक महात्मा हैं जो भभूत देतेे हैं, उससे तुम भी सन्टान-सुख प्राप्त कर सकते हो। वह महात्मा के पास गया। महात्मा ने उसे भभूत दी और बोले,"केवल भभूत के भरोसे मत रहना, हाथ-पैर भी चलाना।"

चुटकुला # 0504
एक पुलिस वाले को एक दिन किसी लाल बत्ती इलाके में उसका अपना ही बेटा रंगे हाथों मिल गया। उसने उसको बहुत डाँटा और फिर समझाया,"तुम नहीं समझते हो कि एड्स कितनी खतरनाक बिमारी है। और अगर तुमको लग गयी तो नौकरानी को लग जायेगी; नौकरानी को लग गयी तो नौकर को पकड़ लेगी; नौकर को हो गयी तो तुम्हारी बहन को पकड़ लेगी; और अगर उसको लग गयी तो पूरे मुहल्ले में कोई न बचेगा।"

चुटकुला # 0505
एक नवविवाहिता ने अपनी सहेली से कहा,"मेरी और मेरे पति की सोच बिल्कुल समान है, फिर भी पता नहीं क्यों हममे कभी नहीं पटी।
सहेली ः क्यों, तुम क्या चाहती हो और तुम्हारे पतिदेव क्या चाहते हैं?

नवविवाहिता ः मैं चाहती हूं कि मैं उनसे उपर रहूं और वे भी यही चाहते हैं कि वे मुझसे उपर रहें।

चुटकुला # 0506
सैनिकों की भर्ती चल रही थी। पहले एक पंजाबी लड़के की बारी आयी। जाँच करने वाले ने कहा,"अपनी छाती दिखाओ।" लड़के ने कहा,"छाती क्या डिखाऊं, छाती तो युद्ध में डिखाऊंगा। भर्ती करने वाला इस पर बहुत खुश हुआ और उसको चुन लिया। उसके तुरन्त बाद एक बंगाली लड़के की बारी आयी। जाँच करने वाले ने कहा,"पीठ दिखाओ।" लड़के ने टपाक से कहा,"पीठ क्या दिखाऊँ, पीठ तो युद्ध में दिखाऊँगा।"

चुटकुला # 0507
एक अरबी शेख भारत आया। यहाँ उसे तैराकी सीखने की तीव्र इच्छा हुई। बडे उत्साह के साथ तालाब तक आया। अति उत्साह में तालाब के किनारे उसका पैर फिसल गया और कुछ चोट भी लग गयी। इस पर गुस्सा होकर बोला,"जब तक तैरना नहीं सीख जाता, तब तक पानी में पैर नहीं डालूँगा।"

चुटकुला # 0508
किसी सरदार जी ने एक छोटी लडकी से शादी की क्योंकि किसी ने बताया था कि छोटी चीज की समस्यायें भी छोटी होती हैं

चुटकुला # 0509
एक सरदार जी को यह बात कभी समझ में नहीं आयी कि कैसे उनका एक ही भाई है जबकि उनकी बहन के दो भाई हैं।

चुटकुला # 0510
एक सरदार जी ने सडक के किनारे केले का छिलका देखा। बोल उठे,"ओह! आज फिर गिरना पडेगा।"

चुटकुला # 0511
अगले दिन उन्होने दो छिलके देखे। सोचने लगे,"इस पर गिरूँ या उस पर?"

चुटकुला # 0512
और उसके अगले दिन बहुत से छिलके देखे। पत्नी को फोन करके बताया,"आज घर देर से आऊँगा।"

चुटकुला # 0513
जार्ज बुश : 'असम्भव' शब्द मेरी डिक्शनरी में नहीं है
सरदार जी : तो डिक्शनरी देख के लेना चाहिये था।

चुटकुला # 0514
एक बार बिजली गयी हुई थी।
सन्ता : अरे यार बन्ता, जरा पंखा चलाना ! बडी गरमी हो रही है।
बन्ता : कर दी ना सरदारों वाली बात! पंखा लगाउँगा तो मोमबत्ती बुझ ना जायेगी?

चुटकुला # 0515
ग्राहक : इस शीशे की गारैन्टी क्या है?
सरदार : ९९ प्रतिशत अगर सौ फीट से नीचे फेकोगे तो निन्यानबे फीट तक कुछ नहीं होगा।

चुटकुला # 0516
किसी रंगीन मिजाज वाले तमिलभाषी को क्या कहेंगे? रंगराजन!

.


.

चुटकुला # 0517
एक गाँव से होकर एक बारात जा रही थी। मोटा काला दूल्हा हाथी पर बैठा था। उसे देखकर गाँव के बच्चे उसके पीछे लग गये और शोर करते हुए चलने लगे। गुस्सा होकर दूल्हे ने कहा, "क्या पीछे-पीछे चले आ रहे हो , हाथी नहीं देखा है ?"
बच्चों ने कहा, "हाथी तो बहुत देखा है, लेकिन हाथी के उपर हाथी नहीं देखा। "

चुटकुला # 0518
एक पहलवान की शादी हुई। सुहागरात को धीरे से बीबी के कमरे में घुसे। बीबी घूँघट काढे हुए सम्भल कर पलंग पर बैठी रही। पहलवान जी को कुछ भी नही सूझा। उन्होने पलंग का एक चक्कर लगाया, फिर दूसरा चक्कर लगाया, फिर तीसरा चक्कर लगाया, और फिर चौथा लगाया; पर कुछ भी नही हुआ।
पाँचवाँ चक्कर लगाने के बाद पहलवान जी बोले, "पंजा लडायेगी ?"

चुटकुला # 0519
एक बहरे ने किसी दूसरे बहरे को कहीं से आते देख पूछा, "बाजार से आ रहे हो?"
दूसरा बहरा : नहीं, बाजार से आ रहा हूँ।
पहला बहरा : ओह ! मैने समझा बाजार से आ रहे हो।

चुटकुला # 0520
एक सरदार जी अपनी पत्नी और छोटी बच्ची के साथ खरीदारी करने निकले। बच्ची ने पपीता देखकर कहा, "पापा पपीता खरीद दीजिये।" सरदार जी ने कहा, "अरे ये कोई पपीता है, ये तो पपीती है; पपीता तो अपने पंजाब में होता है।" आगे चलकर बच्ची को सन्तरा दीखा। बच्ची ने फिर कहा, "पापा सन्तरा खरीद दीजिये।" सरदार ने फिर वही दोहराया, "अरे यह कोई सन्तरा है, ये ते सन्तरी है ; सन्तरा तो अपने पंजाब में होता है।" कुछ और आगे चलने के बाद बच्ची को केला दीखा। बच्ची ने अब केला खरीदने का आग्रह किया। सरदार जी ने फिर वही रवैया अपनाया और बोले," अरे ये कोई केला है, ये तो केली है; केला तो अपने पंजाब में होता है।"
इस बार सरदार जी की पत्नी आपे से बाहर हो गयी। बोली, "चुप रह बेटी ! ये कोई पापा हैं, ये तो पापी हैं ; पापा तो अपने पंजाब में हैं "

चुटकुला # 0521
एक नवविवाहिता को अंगरेजी सीखने का शौक चर्राया तो पडोस के एक मास्टर साहब से अंगरेजी सीखने लगी। मास्टर साहब ने पहले ही दिन बता दिया कि अपनी बोलचाल में अधिक से अधिक अंगरेजी का इस्तेमाल करो तो अंगरेजी जल्दी सीख जाओगी। एक दिन जब पत्नी थोडा देर से घर पहुँची तो पति ने झल्लाकर पूछ लिया, "अभी तक क्या कर रही थी?"
पत्नी ने कहा, "अरे गुस्सा क्यों होते हो? एस्से लिखने के बाद मास्टर साहब से करप्शन कराने चली गयी थी।"

चुटकुला # 0522
एक गंजे ने किसी नाई से बाल कटवाया। उसने बाल कटवाने के बाद नाई से पूछा, "कितने पैसे हुए?" नाई ने बीस रूपये बताये आश्चर्य करते हुए आदमी ने कहा, "क्यों? सबसे तो पन्द्रह रूपये ही लेते हो, हमसे पाँच रूपये ज्यादा क्यों?"
नाई ने कहा, "पाँच रूपये बाल खोजने के हैं, बाकी काटने के। "

चुटकुला # 0523
एक धोबी का गदहा देर रात तक चरकर घर नहीं आया तो धोबी उसको अंधेरे गाँव मे ढूढने लगा । ढूढते-ढूढते उसे एक टूटी झोपडी के अन्दर अंधेरे में कुछ सुगबुगाहट सुनाई दी। वह झोपडी के एक कोने में बैठ कर आहट लेने लगा। उस झोपडी में एक लडका किसी लडकी के साथ भिडा हुआ था।
चरमोत्कर्ष पर पहुँच कर लडके ने पूछा, "कैसा लग रहा है?"
लडकी बोली, "तीनो लोक दिखाई पड रहे हैं।"
धोबी चौंककर बोला, "जरा देखना मेरा गदहा कहाँ है?"


चुटकुला # 0524
एक नौजवान ने बहुत सारी कोशिशे की पर बच्चा पैदा करने में सफल नहीं हो सका। किसी ने उसे सलाह दी कि एक महात्मा हैं जो भभूत देतेे हैं, उससे तुम भी सन्टान-सुख प्राप्त कर सकते हो। वह महात्मा के पास गया। महात्मा ने उसे भभूत दी और बोले,"केवल भभूत के भरोसे मत रहना, हाथ-पैर भी चलाना।"

चुटकुला # 0525
एक पुलिस वाले को एक दिन किसी लाल बत्ती इलाके में उसका अपना ही बेटा रंगे हाथों मिल गया। उसने उसको बहुत डाँटा और फिर समझाया,"तुम नहीं समझते हो कि एड्स कितनी खतरनाक बिमारी है। और अगर तुमको लग गयी तो नौकरानी को लग जायेगी; नौकरानी को लग गयी तो नौकर को पकड़ लेगी; नौकर को हो गयी तो तुम्हारी बहन को पकड़ लेगी; और अगर उसको लग गयी तो पूरे मुहल्ले में कोई न बचेगा।"

चुटकुला # 0526
एक नवविवाहिता ने अपनी सहेली से कहा,"मेरी और मेरे पति की सोच बिल्कुल समान है, फिर भी पता नहीं क्यों हममे कभी नहीं पटी।
सहेली ः क्यों, तुम क्या चाहती हो और तुम्हारे पतिदेव क्या चाहते हैं?

नवविवाहिता ः मैं चाहती हूं कि मैं उनसे उपर रहूं और वे भी यही चाहते हैं कि वे मुझसे उपर रहें।

चुटकुला # 0527
सैनिकों की भर्ती चल रही थी। पहले एक पंजाबी लड़के की बारी आयी। जाँच करने वाले ने कहा,"अपनी छाती दिखाओ।" लड़के ने कहा,"छाती क्या डिखाऊं, छाती तो युद्ध में डिखाऊंगा। भर्ती करने वाला इस पर बहुत खुश हुआ और उसको चुन लिया। उसके तुरन्त बाद एक बंगाली लड़के की बारी आयी। जाँच करने वाले ने कहा,"पीठ दिखाओ।" लड़के ने टपाक से कहा,"पीठ क्या दिखाऊँ, पीठ तो युद्ध में दिखाऊँगा।"

1 टिप्पणियाँ

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.