नाका - विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका. 

विविध विधाओं में से चुनकर पढ़ें -

* कहानी  || * उपन्यास || * हास्य-व्यंग्य  || * कविता  || * आलेख  || * लोककथा  || * लघुकथा  || * ग़ज़ल  || * संस्मरण  || * साहित्य समाचार  || * कला जगत  || * पाक कला  || * हास-परिहास  || * नाटक  || * बाल कथा  || * विज्ञान कथा  ||  * समीक्षा  ||

---***---

यहाँ की विशाल ऑनलाइन लाइब्रेरी में मनपसंद रचनाकार अथवा रचनाएँ खोज कर पढ़ें -

 नाका में प्रकाशनार्थ  रचनाएं इस पते पर ईमेल करें : rachanakar@gmail.com  रचनाकार के वाट्सएप्प नंबर 8989162192 (कृपया कॉल नहीं करें, कॉल रिसीव नहीं होगी, तथा इसका उपयोग केवल प्रकाशनार्थ रचना भेजने के लिए ही करें) पर भी वाट्सएप्प से रचनाएँ अथवा रचना पाठ के वीडियो प्रकाशनार्थ भेजे जा सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए यह पृष्ठ [लिंक] देखें.

--

व्यंग्य - लाइक और शेयर कीजिये..! वरना ... // नेहा भारद्वाज

आज से काफी समय पहले जब फेसबुक पर कदम रखा तो इस आभासी दुनिया के बारे के ज्यादा कुछ जानती नहीं थी और इसका कोई खास यूज़ भी नहीं करती थी। फिर जब नया फोन लिया तो देखा यहां बहुत कुछ है जो बेवजह ही चलता रहता है...

सबसे पहले मेरा सामना हुआ उस फ़ोटो से जिसमें एक बच्चे के फेफड़ों के एक्सरे रिपोर्ट में, एक पिन दिखाया गया था शायद ही कोई सच्चा फेसबुकिया हो जिसने वो फ़ोटो न देखी हो, पहली नज़र में देख कर दिल धक से रह गया, आज भी नहीं जानती की वो सच था या यूं ही।

फिर सामना हुआ खोये पाये विभाग से, एक दो फ़ोटो शेयर भी की...चलो क्या पता किसी की मदद हो जाये ! फिर एक दिन देखा एक औरत, जो बेहद रो रही थी... उसके हाथ में एक बच्ची की फोटो, मैंने कुछ समय पहले शेयर की थी...उसी औरत ने एक लड़के की फ़ोटो भी पकड़ी हुई है, अब क्या कहूँ..? समझ ही नहीं आया क्या सही है !

अगला सामना हुआ भारत माता की जय ! भारतीय आर्मी ! से जिसे कोई पाकिस्तानी या गद्दार ही होगा.. जो लाइक नहीं करेगा, हिंदुस्तानी हो तो जरूर लाइक, शेयर करो भले ही उन जवानों को ये सब देखने की फुर्सत भी न हो। आप उनका सम्मान कर ले वही बहुत है, कम से कम उनके परिवार के लिए कुछ करें जब वो हमारी रक्षा के लिए शहीद हो चुके हो, और नहीं कर सकते तो फिर ये लाइक शेयर से क्या होगा...? न उनका दुख कम होगा न उन्हें कुछ मिलेगा।

फिर आये भगवान के नाम पर शेयर करने वाले ! 10 लोगों को भेजो...तो शुभ सूचना मिलेगी ! गलती से भी इग्नोर नहीं करना.. वरना ! पाप के भागी बनोगे अब कोई ये बताये कि उसमें ऐसा क्या है जो शेयर किया जाए...उन भगवान को हम अच्छे से जानते है, रोज सुबह शाम पूजते है...! साथ में कोई खास शुभ विचार, मार्गदर्शन हो तो चलो एकबारगी उसके बारे में सोचे भी कि लोगों के दिमाग की बत्ती जल जाएगी (वैसे इस तरह की पोस्ट के लिए एक छूट भी होनी चाहिए न, जैसे बच्चे बूढ़ों को सब माफ होता है उसी तरह जो इनका सच जानते है वो इग्नोर कर सकते हैं ) फिर मैंने सोचा चलो आज इग्नोर कर हो देते है.. इसकी माफी यहां मांगने से अच्छा, हम 10 मिनट की माफी भगवान से मांग ले ! वैसे भी मैं उन लोगों के भी सख्त खिलाफ हूँ जो भगवान की आरती भी मुंह से बोलकर नहीं.. बल्कि कैसेट/ सीडी से सुनकर केवल दीपक घुमाते हो, और सुबह शाम घर में दिया भले न जलाएं पर हां माता की भेंट, और भजन जरूर चला कर रखेंगे।

फिर पाला पड़ा उनसे जिनकी बेटी का आज जन्मदिन है...पर उन्हें किसी ने विश नहीं किया तो बेचारी दुखी है ! इसी दुख में आपसे गुहार लगा रही है... और वो भी जो देश की बेटी को लाइक नहीं करोगे वाले ! बेटी पसन्द है तो लाइक करिए...जरूर ! भले ही आपकी अपनी बेटी अपने अधिकारों के लिए घर में लड़ रही हो।

ये सब शुरू के 6 महीने में समझ आ गया कि ये तो कुछ अजीब ही है फिर उनकी प्रोफाइल चेक की तो देखा ये तो बिज़नेस चल रहा है हम काहे उनके बिजनेस में बिजी हो भला ! पर अभी भी बेचारे कुछ हैं जो इसे बड़ा सीरियस लेते हैं उनके लिए सोचा लिख दूँ...कोई शक हो... तो जरा उनकी पिछली शेयर की हुई फोटो चेक कर लीजिये सब समझ आ जायेगा।

हाँ !! एक बात और इस पोस्ट को इतना शेयर करो कि नये यूज़र्स तक पहुंच जाए और वो बेचारे इन सबसे दूर रहें।।

© नेहाभारद्वाज

0 टिप्पणियाँ

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.