नाका - विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका. 

विविध विधाओं में से चुनकर पढ़ें -

* कहानी  || * उपन्यास || * हास्य-व्यंग्य  || * कविता  || * आलेख  || * लोककथा  || * लघुकथा  || * ग़ज़ल  || * संस्मरण  || * साहित्य समाचार  || * कला जगत  || * पाक कला  || * हास-परिहास  || * नाटक  || * बाल कथा  || * विज्ञान कथा  ||  * समीक्षा  ||

---***---

यहाँ की विशाल ऑनलाइन लाइब्रेरी में मनपसंद रचनाकार अथवा रचनाएँ खोज कर पढ़ें -

 नाका में प्रकाशनार्थ  रचनाएं इस पते पर ईमेल करें : rachanakar@gmail.com  रचनाकार के वाट्सएप्प नंबर 8989162192 (कृपया कॉल नहीं करें, कॉल रिसीव नहीं होगी, तथा इसका उपयोग केवल प्रकाशनार्थ रचना भेजने के लिए ही करें) पर भी वाट्सएप्प से रचनाएँ अथवा रचना पाठ के वीडियो प्रकाशनार्थ भेजे जा सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए यह पृष्ठ [लिंक] देखें.

--

लघुकथा लेखन पुरस्कार आयोजन 2019 - प्रविष्टि क्रमांक - 144 // मर्दन // सिंघई सुभाष जैन

प्रविष्टि क्रमांक - 144


मर्दन

-IMG-20180525-WA0007

  सिंघई सुभाष जैन


मिडिल स्कूल से अर्धवार्षिक परीक्षा देकर आदि घर लौटा. अंदर से उसकी माँ बोली  "नाश्ता कर ले बेटा ."

वह देहलीज़ पर रूक गया .दालान पर तखत से ऊठते हुये नानूराम ने सवाल किया " परचा कैसा रहा ? गणित का था ना !  "

आदि तखत पर बैठ गया. वह गुड़ की डली मुँह में  डालते हुये बोला "  काका कह रहे थे कि सरकार का परचा बिगड़ गया है. है. हरेक हम पचास हजार में बिक जायेंगे ."

नानूराम ने बेटे की ओर देखा " क्या कह रहा है तू ?  हुआ क्या  तुझे बेटा  ? "

आदि बोला " काका कह रहे थे कि अब हमारा कर्ज़ा माफ़ होगा. हमारे घर में चार वोटर हैं ".

नानूराम ने तखत पर बैठने की हिम्मत जुटाते हुये अखबार में छपी मंत्रिमंडल के गठन की खबर पर जोरदार मुक्का दे मारा.


-  सिंघई सुभाष जैन

41 -  बी , बखतावरराम नगर

डाकघर के पीछे, तिलकनगर

इन्दौर  452 018

1 टिप्पणियाँ

  1. आदरणीय महोदय, आपकी रचना सराहनीय है विनम्र निवेदन है कि लघुकथा क्रमांक 180 जिसका शीर्षक राशि रत्न है, http://www.rachanakar.org/2019/01/2019-180.html पर भी अपने बहुमूल्य सुझाव प्रेषित करने की कृपा कीजिए। कहते हैं कि कोई भी रचनाकार नहीं बल्कि रचना बड़ी होती है, अतएव सर्वश्रेष्ठ साहित्य दुनिया को पढ़ने को मिले, इसलिए आपके विचार/सुझाव/टिप्पणी जरूरी हैं। विश्वास है आपका मार्गदर्शन प्रस्तुत रचना को अवश्य भी प्राप्त होगा। अग्रिम धन्यवाद

    जवाब देंहटाएं

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.