नाका - विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका. 

विविध विधाओं में से चुनकर पढ़ें -

* कहानी  || * उपन्यास || * हास्य-व्यंग्य  || * कविता  || * आलेख  || * लोककथा  || * लघुकथा  || * ग़ज़ल  || * संस्मरण  || * साहित्य समाचार  || * कला जगत  || * पाक कला  || * हास-परिहास  || * नाटक  || * बाल कथा  || * विज्ञान कथा  ||  * समीक्षा  ||

---***---

यहाँ की विशाल ऑनलाइन लाइब्रेरी में मनपसंद रचनाकार अथवा रचनाएँ खोज कर पढ़ें -

 नाका में प्रकाशनार्थ  रचनाएं इस पते पर ईमेल करें : rachanakar@gmail.com  रचनाकार के वाट्सएप्प नंबर 8989162192 (कृपया कॉल नहीं करें, कॉल रिसीव नहीं होगी, तथा इसका उपयोग केवल प्रकाशनार्थ रचना भेजने के लिए ही करें) पर भी वाट्सएप्प से रचनाएँ अथवा रचना पाठ के वीडियो प्रकाशनार्थ भेजे जा सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए यह पृष्ठ [लिंक] देखें.

--

रोचक आलेख - बीमारी बोर होने की - डा. सुरेन्द्र वर्मा

बोर होना भी एक बीमारी है। जब देखो तब लोग बोर होने लगते हैं। कुछ लोगों में तो बोर होना एक स्थाई-भाव की तरह उनकी मानसिकता में समा जाता है। काम करते करते बोर होने लगते हैं। कोई काम न हो तो बोर होते हैं। काम के भाव या अभाव से इसका कोई सम्बन्ध नहीं है। बोर होना है तो बस होना है।

वैसे बोर होना कोई बुरी बात भी नहीं है। कभी-कभी बोर होना फायदेमंद भी हो सकता है। बोरियत के समय आपको यदि कोई विचार नहीं आता तो आप विचार शून्यता की स्थिति पर पहुँच जाते हैं। इस स्थिति पर पहुँचने के लिए तो लोग तरसते हैं। तरह-तरह के उपाय ढूँढ़ते हैं। साधना करते हैं, योग करते हैं। और बोरियत के समय यदि आप इस स्थिति पर नहीं भी पहुँच पाएं तो भी बोरियत अधिक देर तक टिकती नहीं। बोरियत के समय आपको अक्सर ही कई सकारात्मक विचार आ सकते हैं जिनसे आप अपने जीवन की अनेक जटिल समस्याओं का हल ढूँढ़ सकते हैं। और बोरियत के पंजे से छुटकारा पा सकते हैं।

बोरियत आपको वह अवसर प्रदान करती है कि आप अपने अन्दर थोड़ा झाँक सकें। आत्म-परीक्षण कर सकें। आखिर वो क्या बात है जो आपको बोर करती है ? आप बोरियत की तह तक जा सकते हैं और इस प्रकार अपनी बोरियत पर विजय तक पा सकते हैं। बोर होते हैं इसीलिए तो बोरियत के बारे में सोच पाते हैं। वरना बैठे-ठाले बोरियात के बारे में भला कोई क्यों सोचे ?

कैसे पाया जाए बोरियत से छुटकारा ? बड़ी रिसर्च हुई है इसके सम्बन्ध में। बताया गया है कि जब बोरियत आपको दुखी करने लगे तो ऐसे समय में आप कई सकारात्मक उपाय अपना सकते हैं। एक तरीका यह है कि आप ऐसे में अपने अच्छे लम्हों को याद कीजिए। आप उन उपायों को ध्यान में लाइए जिनसे आपने अपने मुश्किल समय को पराजित किया हो। उन क्षणों को फिर से याद करके आप न केवल बोरियत से छुटकारा पा सकते हैं बल्कि बेहतर महसूस कर सकते हैं।

आप याद कीजिए कि आपको कब-कब किस-किस बात से खुशी महसूस हुई थी ? जब बोर होने लगें तो उन्हीं बातों को मन में दुहराने की कोशिश करें। बोरियत से पलायन करने के लिए आप कई सरल उपाय भी अपना सकते हैं। कोई दिलचस्प किताब पढ़ना शुरू कर दें। टीवी पर कोई मनोरंजक गीत या एपीसोड देखें। मन बहल जाएगा। कुछ नहीं तो सैर के लिए ही निकल जाएं।

कोई अच्छा काम करने की ओर उन्मुख हों। बोरियत से रचनात्मकता की और जाने की कोशिश करें। सोचें कि आप आखिर क्या करना चाहते हैं ? क्या नहीं कर पाए जो बोर हो रहे हैं आप ? आत्म-परीक्षण करें। अपने कार्यों की समीक्षा करें। अपनी बोरियत की विवेचना करें। अपनी बोरियत के मूल में जाएं। बोरियत का कारण तलाश करें। अपनी पिछली विफलताओं पर गौर करें। जवाब ढूँढें कि आपने गलती कहाँ की थी। शांत भाव से अपना आकलन करें। क्या करना है और क्या नहीं करना है आपको - इस पर विचार करें। ऐसा करने भर से ही आप अपनी बोरियत को कम कर सकते हैं बल्कि कई ऐसे विचार आ सकते हैं जो आपकी बोरियत को पूरी तरह समाप्त करने में ही सफल हो जाएं।

कहते हैं ज़हर, ज़हर को मारता है। बोर स्थिति को समाप्त करने के लिए आप किसी ऐसे काम में लग जाएं जो आपको बोर लगता हो। ऐसे में बोरियत को परास्त करने के लिए कुछ न कुछ सर्जनात्मक उपाय आप ज़रूर ढूँढ़ लेंगे।

कहते हैं बोर होने का एक बड़ा लाभ यह है कि यह आपकी सहनशीलता को बढाता है। पता नहीं। लेकिन बोरियत आपको सोचने का एक अवसर ज़रूर प्रदान करती है। बोर हों, तो अपने बारे में सोचिए। आखिर आपकी कार्य-शैली में वह कौन सी कमी है जो आपको बोरियत की तरफ ढकेलती है। यह कमी मिल जाए तो समझो आपने बोरियत पर फतह पाली।

--

डा. सुरेन्द्र वर्मा

१०, एच आई जी / १, सर्कुलर रोड

प्रयागराज -२११००१

0 टिप्पणियाँ

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.