नाका - विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका. 

विविध विधाओं में से चुनकर पढ़ें -

* कहानी  || * उपन्यास || * हास्य-व्यंग्य  || * कविता  || * आलेख  || * लोककथा  || * लघुकथा  || * ग़ज़ल  || * संस्मरण  || * साहित्य समाचार  || * कला जगत  || * पाक कला  || * हास-परिहास  || * नाटक  || * बाल कथा  || * विज्ञान कथा  ||  * समीक्षा  ||

---***---

यहाँ की विशाल ऑनलाइन लाइब्रेरी में मनपसंद रचनाकार अथवा रचनाएँ खोज कर पढ़ें -

 नाका में प्रकाशनार्थ  रचनाएं इस पते पर ईमेल करें : rachanakar@gmail.com  रचनाकार के वाट्सएप्प नंबर 8989162192 (कृपया कॉल नहीं करें, कॉल रिसीव नहीं होगी, तथा इसका उपयोग केवल प्रकाशनार्थ रचना भेजने के लिए ही करें) पर भी वाट्सएप्प से रचनाएँ अथवा रचना पाठ के वीडियो प्रकाशनार्थ भेजे जा सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए यह पृष्ठ [लिंक] देखें.

--

कबाड़ (लघुकथा ) -सुरेश सौरभ

   "कबाड़ी-कबाड़ी वाले।"
   "ऐ !कबाड़ी वाले जरा रूकना।'
   "जी साहब क्या बेचना है।"
   "अरे ! कुछ बाप-दादाओं की पुरानी-धुरानी किताबें जहां-तहां कोने,-अंतरे में पड़ी हैं बस उन्हें हटाना है ।


  "ठीक है साहब ले आइए।"
    साहब किताबें ले आए। रेट तय हुआ-अरे !अरे ! ये तुम्हारा तराजू कैसा है कबाड़ी वाले । बिलकुल दादा आदम के जमाने का लग रहा है।
   "सही कह रहें साहब ये मेरे बाप-दादाओं का ही है।
   "अरे इसे बदलो भाई नया लो ।"

[post_ads]
     "क्यों बदले ? यह मेरा तराजू नहीं साहब मेरे पुरखों की धरोहर है। इसे मैं तब तक संभालूंगा जब तक जिंदा हूं।"
    "अब अपने पुरखों की पुरानी किताबें बेचने वाला वह आदमी शून्य में कुछ खोजने लगा। सोचने लगा। फिर तुल चुकीं किताबें समेट कर कबाड़ी वाले से बोला- माफ करना भाई गलती से मैं काम की किताबें ले आया। फिर कभी आना तो ढेर सारी रद्दी निकाल कर रखूंगा "
  "अजीब लोग हैं पहले दाम पूछते हैं। तुलाते हैं फिर वापस माल धर लेते हैं। भुनभुनाते हुए कबाड़ी वाला चिल्लाते हुए जा रहा था -कबाड़ी वाले ! कबाड़ी वाले..


-सुरेश सौरभ
निर्मल नगर लखीमपुर खीरी पिन-२६२७०१ कापीराइट- लेखक

0 टिप्पणियाँ

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.