नाका - विश्व की पहली, यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित, लोकप्रिय ई-पत्रिका. 

विविध विधाओं में से चुनकर पढ़ें -

* कहानी  || * उपन्यास || * हास्य-व्यंग्य  || * कविता  || * आलेख  || * लोककथा  || * लघुकथा  || * ग़ज़ल  || * संस्मरण  || * साहित्य समाचार  || * कला जगत  || * पाक कला  || * हास-परिहास  || * नाटक  || * बाल कथा  || * विज्ञान कथा  ||  * समीक्षा  ||

---***---

यहाँ की विशाल ऑनलाइन लाइब्रेरी में मनपसंद रचनाकार अथवा रचनाएँ खोज कर पढ़ें -

 नाका में प्रकाशनार्थ  रचनाएं इस पते पर ईमेल करें : rachanakar@gmail.com  रचनाकार के वाट्सएप्प नंबर 8989162192 (कृपया कॉल नहीं करें, कॉल रिसीव नहीं होगी, तथा इसका उपयोग केवल प्रकाशनार्थ रचना भेजने के लिए ही करें) पर भी वाट्सएप्प से रचनाएँ अथवा रचना पाठ के वीडियो प्रकाशनार्थ भेजे जा सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए यह पृष्ठ [लिंक] देखें.

--

व्यंग्य - जय मध्य प्रदेश - हनुमान मुक्त

जय मध्य प्रदेश।

गोल मटोल चेहरे वाले सेनापति ने अपनी चिकने सर पर हाथ फेरते हुए अपने सैनिकों से कहा।

हमने दुश्मन को चारों ओर से घेर लिया है। बस तुमको ढीले ढाले कुर्ते वालों पर नजर रखनी तय है। नजर बिल्कुल पैनी रहनी चाहिए।

हमने पहली नजर में ही उनके ढीले ढाले कुर्तों को देखकर ही उन पर आक्रमण करने का मन बनाया था।

और हां तुम्हें ढीले ढाले कुर्ते बिल्कुल नहीं पहनने है बल्कि मैं तो कहता हूं कि तुम इन दिनों कुर्ता पहनना ही बंद कर दो। बिल्कुल टाइट पेंट शर्ट पहनना शुरू कर दो। बिल्कुल स्किन टच। तुम्हें यह तो पता होगा ही आजकल स्क्रीन टच कपड़े पहनने का जमाना आ गया है। नए लड़के स्किन टच ही पहनना पसंद करते हैं। इसमें आदमी काफी स्मार्ट दिखता है। तुम्हें भी स्मार्ट दिखना है।

स्मार्ट दिखने से ही आदमी स्मार्ट बनता है। तुम सब बहुत स्मार्ट हो। मेरे खेमें में हो। मेरी पार्टी में हो। इसलिए स्मार्ट तो हो ही। बस अब तो तुम्हें स्मार्ट दिखना भी है और रहना भी है।

कहीं ऐसा नहीं हो, दुश्मन तुम्हारे कपड़ों के अंदर देखकर तुम्हारे ढीलेपन को पहचान ले। इसलिए अच्छी तरह से अपने आप को ढक कर रखना है। मोटी जींस और पूरी बांह वाली शर्ट पहनना। कोई झीने कपड़े मत पहन लेना

और हां ढीले ढाले कुर्ते वाले जिन्हें हम अभी तो दुश्मन कह रहे हैं उन्हें राजनीति का लंबा अनुभव है। उन्होंने अपने शरीर को गोल मटोल बिल्कुल बे पेंदी के लोटे की तरह बना रखा है इसलिए उनका हमारी और आना बिल्कुल तय है। ये हवा अपनी ओर चल रही है। लोटों को इधर ही लुढ़कना है। वैसे उनका कमांडर बड़ा अनुभवी है। जिधर से चुग्गे की खुशबू आती है उधर ही घिसटना शुरू कर देता है। बिल्कुल केंचुली की तरह। हमने काफी सारा चुग्गा डाल दिया है। कमांडर के लिए भी और उसके सैनिकों के लिए भी। उतना जो उनके

मध्य प्रदेश को पूरी तरह तृप्त कर दे।

वह काफी अनुभवी हैं। काफी लड़ाई लड़ी है उसने आज तक। कोई लड़ाई नहीं हारी है। हमेशा विजयी टीम की तरफ ही रहा है। उनके सैनिकों को उस पर पूरा पूरा विश्वास है। सैनिकों पर उसे भी पूरा विश्वास है। दोनों का विश्वास अटूट है। युद्ध में विजय पाने का सबसे महत्वपूर्ण हथियार विश्वास ही होता है। यदि एक दूसरे पर विश्वास ही नहीं हो तो हार तय है। इसलिए आप सब तैयार रहें। विजय हमारी ही होगी।

हमने उन सभी ढीले ढाले कुर्ते वाले सैनिकों को बाहर भेज दिया है इसलिए कि कोई उनके मध्य प्रदेश का आकलन नहीं कर सके कि उनके मध्य प्रदेश को कितनी आवश्यकता है।

यदि हमारे दुश्मनों की नजर उन के मध्य प्रदेश पर पड़ जाएगी तो वे उसकी पूर्ति करने का ऑफर उन्हें दे सकते हैं। हमें इसका पूरा पूरा ध्यान रखना है। ऑफर हम दे चुके हैं बस तुम्हें तो नजर रखनी है। उन पर भी और उन्हें ऑफर देने वालों पर भी।

साथ ही अपनी पेंट भी संभाल कर रखनी है इधर-उधर नहीं खिसके। अच्छी तरह से बेल्ट लगाकर कस कर रखना। कहीं खिसक नहीं जाए। अपने उदर को भी ढक कर रखना। कहीं उनकी नजर तुम्हारे मध्यप्रदेश पर पड़ जाएगी तो वे इसे भी भरना शुरू कर सकते हैं। तुम्हें सजग रहना है। तुम्हारे मध्य प्रदेश की पूर्ति हम करेंगे। हम क्या? बल्कि हमारा मध्यप्रदेश ही हमारे मध्य प्रदेश की पूर्ति करेगा। यह हम सब इसी के लिए तो कर रहे हैं।

पापी पेट के लिए कौन क्या नहीं करता ?सब करते हैं। वे भी कर रहे हैं। तुम भी कर रहे हो। हम भी कर रहे हैं।

अब सब मिलकर बोलो। जय मध्य प्रदेश। जय जय मध्य प्रदेश।

इतना कहकर सेनापति ने अपनी बात समाप्त की। सभी सैनिक अपने सेनापति के आदेशानुसार अपने काम पर लग गए। सबकी नजर मध्यप्रदेश पर थी।

--


#हनुमान मुक्त

93, कांति नगर ,गंगापुर सिटी सवाई माधोपुर राजस्थान

0 टिप्पणियाँ

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.