370010869858007
नीचे टैक्स्ट बॉक्स से रचनाएँ अथवा रचनाकार खोजें -
 नाका संपर्क : rachanakar@gmail.com अधिक जानकारी यहाँ [लिंक] देखें.

****

Loading...

25 हजार + रुपए के रचनाकार.ऑर्ग संस्मरण लेखन पुरस्कार आयोजन 2018 के लिए प्रविष्टियाँ आमंत्रित


clip_image001
अद्यतन # 1 - पुरस्कारों में इजाफ़ा - प्रज्ञा प्रकाशन की तरफ से पुस्तकें पुरस्कार स्वरूप दी जाएंगी. विवरण जल्द ही.
अद्यतन # 2   - चुनिंदा संस्मरणों का संकलन किंडल ईबुक के रूप में  प्रकाशित किया जाएगा.
अद्यतन # 3    -  सभी पुरस्कृतों को जे पी श्रीवास्तव का कविता संग्रह रागाकाश पुरस्कार स्वरूप प्रदान किया जाएगा.

अद्यतन # 4 - निर्णायकों का संक्षिप्त परिचय यहाँ देखें

अद्यतन # 5 - संस्मरण एक से अधिक भेजे जा सकते हैं, और शब्द सीमा तथा शैली आदि का कोई बंधन नहीं है - अर्थ यह कि आप संस्मरणात्मक उपन्यास भी इस आयोजन के लिए भेज सकते हैं.

अद्यतन # 6 - रचनाकार में संस्मरण प्रकाशित होने के उपरांत आप इसे अन्यत्र तमाम सोशल साइटों पर साझा कर सकते हैं. (ध्यान दें - रचनाकार में प्रकाशित होने के उपरांत ही, पहले नहीं.)

अद्यतन # 7 - पुरस्कारों में इजाफ़ा - प्रथम तीन पुरस्कृतों को  डॉ. एस. के पाण्डेय की पुस्तक "भगवान की खोज" पुरस्कार स्वरूप प्रदान की जाएंगी.

यात्रा संस्मरण हो या व्यक्तिगत. स्कूली जीवन के हो या कार्य-स्थल के. धीर-गंभीर किस्म के हों या चुटकुले नुमा या हास्य-व्यंग्य से भरपूर. शर्मिंदगी भरे हों या गर्व करने लायक. हर किस्म के संस्मरण का स्वागत है. पुरस्कार आयोजन से बाहर के लिए भी अपने संस्मरण भेज सकते हैं. आप चाहे कवि हों, कहानीकार हों, उपन्यासकार हों, व्यंग्यकार हों या साहित्य के पाठक, आपके अच्छे-भले, मीठे-कड़वे संस्मरण तो होंगे ही. बस, उन्हें लिपि-बद्ध करें और हमारे पास भेजें. काल्पनिक संस्मरण भी चलेंगे, यदि आप कल्पना के घोड़े वहां तक दौड़ा सकते हैं तो Smile
तो, देर किस बात की. आज ही अपने संस्मरण भेजें!

आपकी प्रिय ऑनलाइन पत्रिका रचनाकार में पूर्व में कहानी लेखन व व्यंग्य लेखन पुरस्कार आयोजन सफलतापूर्वक संपन्न हो चुके हैं. विवरण यहाँ देखे जा सकते हैं –
http://www.rachanakar.org/2009/08/blog-post_18.html
http://www.rachanakar.org/2012/07/blog-post_07.html
http://www.rachanakar.org/2012/12/2012.html
इसी तारतम्य में पूर्व में संस्मरण लेखन पुरस्कार आयोजन की घोषणा की गई थी –
http://www.rachanakar.org/2014/07/2014.html
परंतु पर्याप्त प्रायोजन के अभाव में उसे स्थगित करना पड़ा था.

हाल ही में रचनाकार.ऑर्ग के एक सक्रिय व सहृदय योगदानकर्ता द्वारा पुरस्कार राशि का प्रायोजन किया गया है. उनका हार्दिक धन्यवाद. हम उनके हृदय से आभारी रहेंगे.

अतः रचनाकार.ऑर्ग संस्मरण लेखन पुरस्कार आयोजन वर्ष 2018 की सहर्ष घोषणा की जाती है.

इस आयोजन में आप सभी आमंत्रित हैं. आइए, सक्रियता से भाग लें और अपनी सृजनात्मकता को नया आयाम दें.
ध्यान दें – इस आयोजन का उद्देश्य नव-सृजन को पुष्पित-पल्लवित करना मात्र है.

निर्णायक मंडल के लिए तीन सक्रिय, वरिष्ठ रचनाधर्मियों – सर्वश्री अनुराग शर्मा, मनीष कुमार तथा पंकज सुबीर  की सहर्ष स्वीकृति प्राप्त हो गई है. रचनाकार.ऑर्ग की ओर से इन्हें हार्दिक धन्यवाद व आभार.
clip_image002

संपादक / निर्णायक मण्डल द्वारा चयनित रचनाओं के लिये निम्न पुरस्कार निर्धारित किए गए हैं, जो कुछ विशेष परिस्थितियों में बढ़ाए/बदले जा सकते हैं।
· प्रथम पुरस्कार: 11,101 रुपए (ग्यारह हजार एक सौ एक रुपए)
· द्वितीय पुरस्कार: 7101 रुपए (सात हजार एक सौ एक रूपए)
· तृतीय पुरस्कार: 5101 रुपए  (पांच हजार एक सौ एक रूपए)

+ प्रज्ञा प्रकाशन की तरफ से पुस्तकें  पुरस्कार  स्वरूप
सभी पुरस्कृतों को जे पी श्रीवास्तव का कविता संग्रह रागाकाश पुरस्कार स्वरूप प्रदान किया जाएगा.


पुरस्कारों हेतु प्रायोजन आमंत्रित हैं. आप अपनी या अपने प्रियजन के नाम से किताबें या राशि  दान में दे सकते हैं. इस हेतु rachanakar@gmail.com पर संपर्क करें.

इस आयोजन में भाग लेने के लिए रचनाकार में रचनाएँ भेजने के नियम (कृपया इस लिंक को देखें व सूक्ष्मता से अध्ययन करें - http://www.rachanakar.org/2005/09/blog-post_28.html ) यथावत लागू होंगे, इसके अतिरिक्त, ये नियम भी लागू होंगे –
1- इस आयोजन के लिए भेजे जाने वाले संस्मरण पूर्णतः मौलिक, सर्वथा अप्रकाशित तथा अप्रसारित होने चाहिए. रचना कहीं भी, प्रिंट माध्यम हो या ऑनलाइन पूर्व प्रकाशित न हो. ब्लॉग, फ़ेसबुक या वाट्सएप्प या अन्यत्र, कहीं भी, डिजिटल-प्रिंट माध्यम में पूर्व-प्रकाशित न हो. बेहतर हो कि इस आयोजन के लिए आप कुछ नया, नायाब सा लिखें. आयोजन का उद्देश्य ही है नव-सृजन को प्रोत्साहित करना. रचनाकार.ऑर्ग में प्रकाशित होने के उपरांत रचनाओं को रचनाकार का लिंक देते हुए अन्यत्र प्रकाशित/साझा किया जा सकता है.
2 - इस आयोजन में भाग लेने के लिए रचनाएँ भेजने के साथ ही आप रचनाकार संस्मरण लेखन पुरस्कार आयोजन 2018 के नियमों से स्वयंमेव आबद्ध हो जाते हैं.
3 - निर्णायकों का निर्णय अंतिम व सभी पार्टियों के लिए मान्य व बाध्यकारी होगा.
4 – रचना किसी भी फ़ॉन्ट में, टैक्स्ट, वर्ड या पेजमेकर आदि फ़ाइल के रूप में भेजी जा सकेंगी, परंतु चित्र/पीडीएफ फ़ाइल के रूप में प्राप्त, अन्य स्वरूपों में लिखी, स्क्रीनशॉट, ऑडियो, लिंक, आदि के रूप में भेजी गई रचनाओं पर विचार नहीं किया जाएगा व ऐसी प्रविष्टियाँ स्वतः अयोग्य मानी जावेंगी.
5 – रचनाकार में इस आयोजन के लिए एक लेखक के द्वारा एक से अधिक रचनाएँ प्रकाशनार्थ भेजी जा सकती हैं, और शब्द सीमा आदि का भी कोई बंधन नहीं है. परंतु एक लेखक को सिर्फ एक ही पुरस्कार प्रदान किया जा सकेगा. किसी भी रचना को बिना कोई कारण बताए स्वीकृत-अस्वीकृत करने का सर्वाधिकार निर्णायक मंडल व संपादक मंडल के पास होगा व सभी पक्षों को मान्य व बाध्यकारी होगा.
6 – रचनाएँ भारतीय समयानुसार अंतिम तिथि - 31 मार्च 2018 तक प्रेषित किए जा सकते हैं. रचनाएँ प्राप्त होने के उपरांत उन्हें यथासंभव शीघ्रातिशीघ्र रचनाकार.ऑर्ग पर प्रकाशित कर दिया जाएगा. अंतिम तिथि के बाद मिली  प्रविष्टियाँ स्वतः अयोग्य मानी जायेंगी।
7 – परिणामों की घोषणा मई 2018 के प्रथम सप्ताह में की जाएगी.
8 – समय समय पर इन नियमों में परिवर्तन किए जा सकते हैं जो कि सभी पक्षों के लिए मान्य व बाध्यकारी होंगे.
§ 9 - इस आयोजन हेतु प्राप्त रचनाओं के प्रकाशन के एवज में किसी तरह का पारिश्रमिक देय नहीं है.
  • रचनाकार में समय समय पर अन्य तमाम लेखकों के संस्मरण आलेख पूर्व की तरह प्रकाशित होते रहेंगे, मगर पुरस्कार चयन में सिर्फ वही संस्मरण शामिल माने जाएंगे जिन्हें विशेष रूप से इस आयोजन के लिए भेजा जाएगा और उसमें नीचे दिया गया घोषणा पत्र आवश्यक रूप से शामिल किया गया होगा.

  • घोषणा पत्र
    प्रमाणित किया जाता है कि संलग्न संस्मरण आलेख मौलिक, अप्रकाशित व अप्रसारित है, तथा इसे रचनाकार.ऑर्ग ( http://rachanakar.org ) में संस्मरण लेखन पुरस्कार आयोजन 2018 में सम्मिलित करने हेतु प्रेषित किया जा रहा है. मुझे रचनाकार.ऑर्ग की तमाम शर्तें, उनके निर्णय समेत, मान्य होंगी.

उक्त घोषणा पत्र को रचना भेजते समय रचना में या ईमेल में कॉपी पेस्ट कर लगाएं.

अद्यतन सूचनाओं के लिए कृपया इस पृष्ठ को बुकमार्क कर लें व नियमित तौर पर देखते रहें.

अंतिम तिथि का इंतज़ार मत कीजिये, अपनी रचनाएँ ईमेल (rachanakar@gmail.com पर) से हमें जल्दी से जल्दी भेज दीजिये। इस आयोजन में भाग लेने के इच्छुक सभी रचनाकारों को हार्दिक मंगलकामनाएँ!
संस्मरण 5359576378769008110

एक टिप्पणी भेजें

  1. रचनाकार का सराहनीय प्रयास। एक अयोजन में मैने भाग लिया था। आयोजकों ने उस समय मेरे जैसे अनाम लेखक को पुरष्कृत कर अचंभित किया था। पुरस्कार मिले न मिले मौका मिला तो लिख कर आयोजन का हिस्सा बनना पसंद करूंगा। हार्दिक शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. धन्यवाद. आपकी प्रविष्टि का इंतजार है.

      हटाएं
  2. संस्मरण, अप्रकाशित और अप्रसारित ही क्यों ? प्रकाशित और प्रसारित वाला क्यों नहीं ?

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आलोक जी, इस आयोजन का उद्देश्य है नव-सृजन को प्रोत्साहित करना. इसलिए नया लिखें, नया रचें और हमें शीघ्र भेजें.

      हटाएं
  3. टिप्पणी करने बैठा था, तभी रचनाओं के बबंडर मन में हिलोरे लेने लगे. ये वो सूरज हे जो नव लेखकों को मंच प्रदान करता है. जिसके लिए में कृतज्ञ हूँ.

    उत्तर देंहटाएं
  4. टिप्पणी करने बैठा था, तभी रचनाओं के बबंडर मन में हिलोरे लेने लगे. ये वो सूरज हे जो नव लेखकों को मंच प्रदान करता है. जिसके लिए में कृतज्ञ हूँ.

    उत्तर देंहटाएं
  5. आदरणीय वर्माजी, श्रीवास्तव जी का कृतज्ञ हूँ। मेरी हाइकु रचना को प्रकाशित कर उत्साह वर्धन किया।
    निश्चितरूप से आशावाद की और अग्रसर हूँ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. सम्माननीय , नमस्कार
    मैंने अभी देखा ''संस्मरण लेखन पुरस्कार'' के बारे में इतने अल्प समय में तो लिखकर भेजना संभव नहीं हो पाएगा किन्तु जिन्होंने भेजा है छपने पर अवश्य पढूंगी |

    उत्तर देंहटाएं
  7. परिणामों के लिए यह लिंक देखें -

    http://www.rachanakar.org/2018/05/2018.html

    उत्तर देंहटाएं
  8. आ,रविशंकर जी ,
    नमस्कार
    मवोदय ,मैंने 2018 संस्मरण प्रतियोगिता में भाग लिया था "एन सी सी और मैं "नामक शीर्षक से अपने संस्मरण भेजे थे किंतु आप का आज तक कोई भी रिप्लाई नहीं आया क्या कारण है

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. अपना पुराना ईमेल चेक करें. रचना प्राप्त होते ही प्रकाशित कर दी गई थी व सूचना भी दे दी गई थी. लिंक है -
      http://www.rachanakar.org/2018/02/47.html
      सादर,
      रवि

      हटाएं
  9. अपना पुराना ईमेल चेक करें. रचना प्राप्त होते ही प्रकाशित कर दी गई थी व सूचना भी दे दी गई थी. लिंक है -
    http://www.rachanakar.org/2018/02/47.html
    सादर,
    रवि

    उत्तर देंहटाएं

रचनाओं पर आपकी बेबाक समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.

स्पैम टिप्पणियों (वायरस डाउनलोडर युक्त कड़ियों वाले) की रोकथाम हेतु टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

emo-but-icon

मुख्यपृष्ठ item

कुछ और दिलचस्प रचनाएँ

फ़ेसबुक में पसंद करें

---प्रायोजक---

---***---

ब्लॉग आर्काइव